दलित ने सांसद को खाना खिलाने से किया इन्कार

- in राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री के ग्राम स्वराज अभियान के तहत अनुसूचित जाति के घर भोजन व रात्रि विश्राम के लिए निरसा प्रखंड के तिलतोड़िया गांव में शुक्रवार को पहुंचे धनबाद (झारखंड) के सांसद पशुपति नाथ सिंह समेत जिला भाजपा के अन्य नेताओं को अजीबोगरीब स्थिति का सामना करना पड़ा।

न्योता देने वाले शिवचरण दास ने ऐन मौके पर हाथ खड़े करते हुए भोजन व रात्रि विश्राम कराने से इन्कार कर दिया। दास के पीछे हटने के बाद गांव के ही अनुसूचित जाति के धनंजय रजक ने आगे बढ़कर सांसद पीएन सिंह को अपने घर पर खाना खिलाया। उनके घर की छत पर सांसद समेत अन्य भाजपा नेताओं ने रात्रि विश्राम किया।

गौरतलब है कि एससी-एसटी को साधने के लिए भाजपा ने अपने मंत्रियों, सांसदों और विधायकों को ग्राम स्वराज अभियान के तहत चिह्नित गांवों में एक रात गुजारने का फरमान जारी किया है। इसी के तहत तिलतोड़िया गांव में शुक्रवार की रात स्थानीय भाजपा सांसद पीएन सिंह का कार्यक्रम था।

ये हैं वो बड़ी वजह जिस कारण भारत और चीन कभी नहीं बन सकते दोस्त

पंचायत के वार्ड सदस्य शिवचरण दास के घर पर भोजन और रात्रि विश्राम की व्यवस्था की गई थी। इसकी जानकारी मिलने के बाद शिवचरण के घर रविदास संघर्ष समिति धनबाद के संस्थापक दिलीप राम और एसपी चौहान समर्थकों के साथ धमक पड़े।

भाजपाइयों को भोजन न कराने का शिवचरण पर दबाव डाला और वह कार्यक्रम से पीछे हट गए। रविदास संघर्ष समिति के नेताओं ने केंद्र और झारखंड की भाजपा सरकार पर अनुसूचित जाति विरोधी होने का तोहमत जड़ नारेबाजी की।

पीएन सिंह का कहना है कि शिवचरण दास की ही सहमति से कार्यक्रम तय हुआ था। बाहर के लोगों ने राजनीति करने के लिए तिलतोड़िया आकर शिवचरण को डराया-धमकाया। इस कारण डर से वह कार्यक्रम से पीछे हट गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

लापता जवान की निर्ममता से हत्या, शव के साथ बर्बरता, आॅख भी निकाली

दो दिन पहले बार्डर की सफाई दौरान पाकिस्तानी