जानवरों से डोनाल्ड ट्रंप ने की इंसानों की तुलना, कहा..

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अवैध प्रवासियों (इमिग्रंट्स) की तुलना ‘जानवर’ से की है. उन्होंने अमेरिका के प्रवासी कानूनों (इमिग्रेंट लॉ) को ‘बेकार’ बताते हुए उनकी आलोचना की और कहा कि केवल योग्यता के आधार पर लोगों को अमेरिका में शरण दी जानी चाहिए. मैक्सिको और कैलिफोर्निया के अधिकारियों पर नाराजगी जाहिर करते हुए ट्रंप ने अमेरिका के ‘कमजोर’ प्रवासी कानूनों को मजबूत की बाती की.

ट्रंप ने कहा, ‘‘हमारे देश में लोग आ रहे हैं या आने की कोशिश कर रहे हैं. हम उनमें से बहुतों को रोक रहे हैं. आप यकीन नहीं करेंगे कि ये लोग कितने बुरे हैं, ये आदमी नहीं बल्कि जानवर हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम उन लोगों को एक स्तर तक देश से बाहर ले जा रहे हैं और इतनी संख्या में बाहर ले जा रहे हैं जो पहले कभी नहीं हुआ. इन कमज़ोर कानूनों के कारण वो तेजी से देश के अंदर आ रहे हैं, हम उन्हें वापस छोड़ रहे हैं. लेकिन वो दोबारा आ जा रहे हैं. यह बेवकूफाना है.’’

ट्रंप ने देश में बड़ी संख्या में अवैध प्रवासियों के आने के लिए देश के ‘बेकार कानूनों’ को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने हाल के महीनों में कांग्रेस से बार-बार अपील की है कि वह मेक्सिको बॉर्डर पार करके अमेरिका आने वाले प्रवासियों की संख्या रोकने के लिए कड़े कानून लागू करें. उन्होंने कहा कि कैलिफोर्निया के कानून अवैध प्रवासियों, अपराधियों, ड्रग डीलरों, गिरोह सदस्यों और हिंसक लुटेरों को गैंग्स में छोड़ देने के लिए मजबूर करते हैं.

जीना हास्पेल बनीं CIA की पहली महिला डायरेक्टर

ट्रंप ने कहा, ‘‘कैलिफोर्निया की धरती पर सबसे कुख्यात और हिंसक अपराधियों जैसे कि एमएस- 13 आपराधिक गिरोह के सदस्यों को पनाहगाह देते हैं जिससे निर्दोष पुरुष, महिलाओं और बच्चों को इन निर्दयी अपराधियों के रहमो-करम पर छोड़ दिया जाता है.’’ ट्रंप ने कहा कि वो चाहते हैं कि लोगों को योग्यता के आधार पर कानूनी तरीके से अमेरिका में एंट्री दी जाए.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

नवाज शरीफ की मुश्किलें बढ़ीं, पार्टी नेता हनीफ अब्बासी को उम्रकैद

पाकिस्तान की एक मादक पदार्थरोधी अदालत ने पाकिस्तान