दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर 15 अप्रैल से लोग कर सकेंगे सफर

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 अप्रैल को दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के निजामुद्दीन-उप्र बार्डर हिस्से का उद्घाटन कर सकते हैं। वह इसी दिन ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन भी कर सकते हैं। इनके चालू होने पर दिल्ली को काफी हद तक जाम से मुक्ति मिल सकती है।

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर 15 अप्रैल से लोग कर सकेंगे सफरदिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के पहले चरण के अंतर्गत निजामुद्दीन पुल से उप्र बार्डर तक के हिस्से का निर्माण लगभग पूरा हो गया है। केवल मदर डेयरी के पास पटपड़गंज पुल पर एक ओर तीन लेन के पुल का निर्माण शेष है, जो अगले चार-पांच दिन में पूरा हो जाएगा। यहां अधूरे डिवाइडर का काम भी चार-पांच दिन में पूरा होने की उम्मीद है।

इसके अलावा सराय काले खां की ओर से यमुना ब्रिज को जोड़ने वाले फ्लाईओवर का निर्माण पूरा होने को है। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के तीन टोल प्लाजा (डासना, पिलखुआ तथा डासना-मेरठ जंक्शन प्वाइंट) में से एक भी निजामुद्दीन-उप्र बार्डर हिस्से पर नहीं है।

एनएचएआइ के प्रोजेक्ट डायरेक्टर आरपी सिंह के अनुसार, ऐसा स्थानीय वाहन चालकों को हाईवे और एक्सप्रेस-वे दोनों का उपयोग करने की सहूलियत देने के मकसद से किया गया है। इसके लिए गाजीपुर मुर्गा मंडी पेट्रोल पंप व अक्षरधाम के पास दो एक्जिट प्वाइंट बनाए गए हैं।

स्थानीय वाहन चालक निजामुद्दीन पुल से एक्सप्रेस-वे या हाईवे में किसी का भी इस्तेमाल कर सकेंगे। एक्सप्रेस-वे पर टोल दिए बगैर अक्षरधाम अथवा गाजीपुर एक्जिट प्वाइंट से हाईवे या बाहर जाने की छूट होगी। अक्षरधाम एक्जिट से हाईवे पर या नोएडा, आइटीओ व गीता कॉलोनी की ओर जा सकेंगे।

इंदिरापुरम जाने वालों को गाजीपुर एक्जिट से निकलकर यूपी बार्डर पर नवनिर्मित हाईवे फ्लाईओवर का इस्तेमाल करना होगा। इसी तरह कौशांबी, वैशाली और मोहन नगर जाने के लिए पुल के बजाय बाईं ओर की सड़क का इस्तेमाल किया जा सकेगा।

उप्र के सीएम योगी आदित्यनाथ 30 मार्च को उप्र बार्डर-गाजियाबाद एलीवेटेड रोड का उद्घाटन करेंगे। इससे मोहन नगर को छोड़ गाजियाबाद जाने वाले यूपी बार्डर से एलीवेटेड रोड पकड़कर सीधे गाजियाबाद शहर में दाखिल हो सकेंगे।

पूरी तरह रेड लाइट फ्री हो जाएगा निजामुद्दीन

टी प्वाइंट1मयूर विहार व गाजीपुर में दो अंडरपास, गाजीपुर और यूपी बार्डर फ्लाईओवर तथा कल्याणपुरी व पटपड़गंज पुलों के चौड़ीकरण, गाजीपुर पटपड़गंज और अक्षरधाम के पास तीन फुट ओवरब्रिजों के अलावा यमुना नदी पर दोनों ओर चार-चार लेन के दो अतिरिक्त पुल बनाए गए हैं। प्रोजेक्ट चालू होने पर निजामुद्दीन टी प्वाइंट पूरी तरह रेड लाइट फ्री हो जाएगा। 8.7 किमी लंबे निजामुद्दीन-यूपी बार्डर खंड का निर्माण वेलस्पन इंफ्रास्ट्रक्चर ने ढाई साल में 850 करोड़ की लागत से किया है। इसके तहत तीन-तीन लेन के एक्सप्रेस-वे व दोनों ओर चार-चार लेन का हाईवे बना है।

Loading...

Check Also

J&K: चश्मा क्षेत्र में तीनों लोगों के शव बरामद, 5 नवंबर को भूस्खलन में हुए थे लापता

J&K: चश्मा क्षेत्र में तीनों लोगों के शव बरामद, 5 नवंबर को भूस्खलन में हुए थे लापता

बैटरी चश्मा क्षेत्र में जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर पांच नवंबर को हुए भूस्खलन की चपेट …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com