Home > Mainslide > कांग्रेस अधिवेशन आज से होगा शुरू, राहुल तय करेंगे पार्टी की दिशा

कांग्रेस अधिवेशन आज से होगा शुरू, राहुल तय करेंगे पार्टी की दिशा

कांग्रेस अधिवेशन की शुक्रवार से शुरुआत हो रही है. इस अधिवेशन में संचालन समिति सब्जेक्ट कमेटी में तब्दील हो जाएगी. पहले दिन सब्जेक्ट कमेटी के लोग अलग-अलग प्रस्तावों पर चर्चा करेंगे. 17 और 18 मार्च का दिन महत्वपूर्ण होगा, जब राहुल गांधी अधिवेशन की शुरुआत करेंगे. कांग्रेस ने अधिवेशन के लिए आयोजन समिति, ड्राफ्टिंग कमेटी और उसके तहत चार उपसमिति और एक संविधान संशोधन कमेटी का गठन किया है. 16 मार्च को सब्जेक्ट कमेटी की बैठक होगी जो विभिन्न प्रस्ताव पर चर्चा करेगी.

ड्राफ्टिंग कमेटी से जुड़ी चार उपसमिति

1. राजनीतिक मसलों पर उपसमिति

2. आर्थिक मसलों पर उपसमिति

3. अंतरराष्ट्रीय मसलों पर उपसमिति

4. कृषि, रोजगार और गरीबी उन्मूलन पर उपसमिति

अधिवेशन में मुख्य भाषण

17 मार्च को कांग्रेस अध्यक्ष के भाषण से अधिवेशन दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में शुरू होगा. दिन दो प्रस्ताव पर चर्चा होगी. 18 मार्च को भी दो प्रस्ताव आएंगे. 18 मार्च को शाम 5 बजे राहुल गांधी का मुख्य भाषण होगा जो समापन भाषण होगा.

खुलासा: दुनिया में 93 फीसदी बोतलबंद पानी में पायें जाते हैं प्लास्टिक के कण

अधिवेशन का मकसद

राहुल गांधी के अध्यक्ष पद पर चयन पर कांग्रेस के प्रतिनिधि मुहर लगाएंगे. तीन दिन के अधिवेशन में तय होगा कि पार्टी की दिशा विभिन्न मसलों पर क्या होगी मसलन राजनैतिक, आर्थिक, अंतरराष्ट्रीय, कृषि, रोजगार और गरीबी उन्मूलन के मसले पर.

राजनीतिक प्रस्ताव में मौजूदा सियासी हालात और कांग्रेस की भविष्य की दशा और दिशा का जिक्र होगा. इसमें साफ संकेत होगा कि कांग्रेस गठबंधन की सियासत के माध्यम से मौजूदा सत्तधारी पार्टी से टकराएगी. राजनीतिक प्रस्ताव में ताकत और कमजोरी दोनों पर चर्चा की जाएगी. मौजूदा राजनीतिक हालात की बात होगी और कांग्रेस के प्रस्ताव में गठबंधन के साथ सियासत पर जोर होगा.

किसानों की स्थिति क्या है और कैसे सुधरेगी, कैसे सुधरेगी और कांग्रेस क्या कर सकती है. आर्थिक प्रस्ताव में इस बात का जिक्र होगा कि सरकार की नीति कहां गलत है. कैसे अर्थव्यवस्था को दुरुस्त किया जाएगा और कांग्रेस आने वाले दिनों में क्या करेगी.

कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) का चुनाव पूरे कांग्रेस के इतिहास में सिर्फ 5 बार हुआ है. आमतौर पर cwc का चयन पार्टी अध्यक्ष ही करते हैं.

अलग सेशन क्यों

1. आमतौर पर कांग्रेस अध्यक्ष पर फोकस होता है, लेकिन दिल्ली कांग्रेस अधिवेशन कार्यकर्ताओं की प्लेनरी है. इसमें पार्टी के 1500 प्रतिनिधियों, ज्यादातर देशों के राजदूतों को भी आमंत्रण किया जाता है. ये प्लेनरी कार्यकर्ताओं की प्लेनरी होगी, क्योंकि राहुल गांधी चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा कार्यकर्ता ब्लॉक स्तर और ज़िला स्तर के हों.

2. कांग्रेस के अध्यक्ष पार्टी की विचारधारा, प्रस्ताव और स्पीकर्स पर फोकस करना चाहते हैं.

3. चार साल सरकार को हो गए. सभी मुद्दों और मसलों पर तथ्य आधारित जानकारी दी जाएगी. कृषि, रोजगार, भ्रष्टाचार, अल्पसंख्यक और राष्ट्रीय सुरक्षा (दो भाषाओं में जारी होगा)

4. विजन स्टेटमेंट भी देंगे जिसमें इसका ब्यौरा होगा कि कांग्रेस सरकार में आई तो क्या और कैसे करेंगे.

Loading...

Check Also

यूपी में मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्रियों की फ्लीट में शामिल होंगे नए वाहन

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उप मुख्यमंत्रियों की फ्लीट के पुराने वाहन बदले जाएंगे। मंत्रिपरिषद ने …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com