Home > राज्य > बिहार > सीएम नीतीश ने भाजपा नेताओं से इस मामले में जल्द-से-जल्द फैसला लेने की कही बात

सीएम नीतीश ने भाजपा नेताओं से इस मामले में जल्द-से-जल्द फैसला लेने की कही बात

पटना। लोकसभा चुनाव 2019 में सीटों के बंटवारे को लेकर बात करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि इस बारे में बीजेपी नेताओं से वन-टू-वन बात की जाएगी। इस मामले में तीन से चार हफ्ते में भाजपा की तरफ से प्रस्ताव आएगा। सीट शेयरिंग के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि ये मसला जल्द ही तय कर लिया जाएगा। मुख्यमंत्री पटना में लोकसंवाद की बैठक के बाद पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे। सीएम नीतीश ने भाजपा नेताओं से इस मामले में जल्द-से-जल्द फैसला लेने की कही बात

विशेष राज्य का दर्जा बिहार का हक, इसे लेकर रहेंगे

विशेष राज्य के दर्जे पर उन्होंने कहा कि विशेष राज्य का दर्जा हमारा हक है और हम इसे लेकर रहेंगे। बिहार को विशेष राज्य का दर्जा क्यों मिलना चाहिए? ये सवाल बार-बार आता है। मेरा मानना है कि हर मायने में बिहार पिछड़ा है, प्रति व्यक्ति आय के मामले में भी बिहार निचले पायदान पर है।

विशेष राज्य का दर्जा सभी दलों की मांग, सुशील मोदी भी हैं शामिल

वहीं पीएम मोदी के विशेष दर्जा के वादे पर नीतीश कुमार ने कहा कि यह सवाल सुशील मोदी से पूछिए, विशेष दर्जा पूरे बिहार की मांग है, विधानमंडल में सर्व सम्मति से मांग का प्रस्ताव पारित हुआ और प्रस्ताव में बीजेपी की भी सहमति है।

बिहार हर साल प्राकृतिक आपदाएं झेलता है। एेसे में बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिलना तर्कसंगत है।सरकार और सर्वदलीय बैठक के बाद यह मांग रखी जा रही है, जिसपर बिहार की जनता और सभी दल एकमत हैं। 15 वें वित्त आयोग में इसकी चर्चा होगी।

-कांग्रेस मुस्लिमों की पार्टी है इस सवाल पर नीतीश कुमार ने कहा कि इस मामले को कांग्रेस ही बेहतर बता सकती है। इस मामले को वो लोग ही जानें। सभी को अपने-अपने तरह से राजनीति करने का अधिकार है।

-बालिका गृह यौन शोषण मामले में उन्होंने कहा कि समाज कल्याण विभाग ने मामले का खुद उद्भेदन किया है और इस मामले में तर्कसंगत कार्रवाई की जाएगी। 

किसानों की सहायता के लिए राज्य सरकार प्रयत्नशील

उन्होंने कहा कि किसानों को हर संभव सहायता पहुंचाना हमारी प्रॉयरिटी है, इसके लिए सरकार गंभीर है और इसके लिए हमने किसान फसल सहायता की शुरुआत की गई है। उन्होंने कहा कि सब्जी के ऑर्गेनिक फार्मिंग पर इनपुट सब्सिडी दी जा रही है। अभी चार जिलों में इस पर काम हो रहा है। अनुभव के आधार पर इसको लागू किया जाएगा।

लोकसंवाद में लोगों ने दिए सुझाव

लोकसंवाद कार्यक्रम में औरंगाबाद से आये आस्तिक शर्मा ने सुझाव दिया कि भेटनरी कॉलेज में जानवरों को चारा नहीं मिलता और भेटनरी कॉलेज से पशुओं को कसाई खाना भेजा जा रहा है, पशु खरीद मामले में भी गड़बड़ी की जा रही है। इसके लिए कारगर कदम उठाए जाएं। 

Loading...

Check Also

जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रपति शासन की सिफारिश को मिली मंजूरी, 19 दिसंबर से होगा लागू

केंद्र ने रियासत में 19 दिसंबर के बाद राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश की है। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com