इस गांव में शादी से पहले बच्चे पैदा करने की छूट, पूरा मामला सुनकर दिमाग हिल जाएगा

- in ज़रा-हटके

राजस्थान के उदयपुर (Udaypur, Rajistan) में एक ऐसी जगह है जहाँ की रीति-रिवाज सुनकर आपका दिमाग घूम जाएगा, और कुछ मस्तीखोर लड़के तो ऐसे भी होंगे जो वहीँ जाना चाहेंगे! आज हम आपको एक बहुत ही दिलचस्प और अजीबो-गरीब न्यूज़ (Interesting News) सुनाने जा रहे हैं जिसमे आपको बहुत कुछ अटपटा सा लग सकता है! हम कितने भी मॉडर्न (Modern) और स्टैण्डर्ड (Stranded) क्यों ना हो जाए पर शादी से पहले बच्चे पैदा करना वाला कांसेप्ट (Concept) इंडिया में तो नहीं चलेगा!

भारत में एक जगह ऐसी भी जहाँ शादी से पहले आपस में सम्बन्ध (Physical Relation) बनाया जाता है और फिर बच्चे भी पैड किये जाते हैं …और सबसे ख़ास बात ये है कि ये सारी Program लड़का-लड़की के घर वालों के मर्ज़ी से होता है! आपको जान कर हैरानी होगी कि इस जगह में ये प्रथा (Old Tradition) सदियों से चली आ रही है और इसे पूरा गाँव बहुत शान से मनाता है|

शादी से पहले Relationship में रहना पड़ता है

उदयपुर (Udaypur, Rajistan) के किसी गाँव के रहनेवाले ये लोग ” ग्रासिया ” जनजाति के कहलाते हैं, इनका पूरा जीवन सिर्फ कृषि (Agriculture) पर ही निर्भर है! यहाँ लगभग पिछले 100 Years से एक प्रथा (Tradition) चली आ रही है जिसमे लड़का-लड़की को शादी (Marriage) से पहले एक ही साथ सालों तक रहना होता है, और फिर जब लड़की गर्भवती (Pregnant) होकर बच्चे को जन्म देती है तब इनकी शादी कराई जाती है!

प्रेमी जोड़ा (Lover Couple) चाहे तो शादी से मना भी कर सकता है

अभी इस जाती की कहानियां (Story) यहीं पर खत्म नहीं हुई है, हैरान कर देने वाली बात तो ये है कि बच्चा पैदा (Baby Birth) हो जाने के बाद अगर लड़का या लड़की में से कोई भी उस रिश्ते को आगे बढ़ाना नहीं चाहता है तो इसमें कोई बड़ी बात नहीं है! यहाँ से शादी (Marriage) भी इनकी मर्ज़ी के हिसाब से ही होती है, अगर वो नहीं करना चाहते हैं तो कोई ज़बरदस्ती नहीं है! रिवाज़ दरअसल ये है की अगर लिव के दौरान इन जोड़े को बच्चा है हुआ तो इसके बाद दोनों अलग हो सकते हैं और फिर से किसी और के साथ अपने भविष्य (Future) की प्लानिंग (Planing) कर सकतें हैं!

स्त्री के इस अंग पर बाल का होना अशुभ होता है जबकि पुरुष के शुभ होता है, जानिये वो अंग

Girls को दिया जाता है खास सम्मान

इस जाती (Caste) के लोगों में लड़कियों (Girls) को बाउट सम्मान दिया जाता है, मगर ये कैसा सम्मान है मुझे तो समझ में नहीं आ रहा है! खैर, यहाँ के Rules के According आज तक इस गाँव में किसी भी महिला पर उत्पीड़न या बलात्कार (Rape) का कोई रिकॉर्ड (Record) सामने नहीं आया है! Good Think ये है कि अगर कोई जोड़ा आपस में रहना चाहता है तो लड़के के माँ-बाओ ही उसे सारा खर्च देते है, और ऐसे में अगर बात शादी (Marriage) तक आ गयी तो शादी का सारा खरचा लड़के वाले ही उठाते हैं |

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बच्चे को खाने में दिया सलाद तो बुला ली पुलिस, उसके बाद…

अक्सर ऐसा होता है कि बच्चों को खाने