बाल विवाह: नाबालिग ने खुद पुलिस बुलवाई

- in अपराध

बाल विवाह के प्रति जागरूकता के चलते एक अजीब घटना हुई, जब दुल्हन ने खुद पुलिस को फ़ोन लगा कर कहा, साहब मेरी बचपन में शादी हुई थी. अभी मैं नाबालिग हूं, लेकिन मुझे जबरदस्ती ससुराल के लोग ले जाने के लिए आए हैं और न भेजने पर 2 लाख रुपए जुर्माना वसूलने की धमकी दे रहे हैं. प्लीज मुझे बचा लो’. पुलिस सन्न रह गई जब एक नाबालिग किशोरी ने डायल 100 को फोन करके अपनी पीड़ा सुनाई और मदद मांगी. मामला फैजाबाद की रश्मि का है. किशोरी की पीड़ा पुलिस प्रशासन तक पहुंची और उसका बाल विवाह के बाद जीवन बर्बाद होने से बच गया. पुलिस ने उसके पति को थाने लाकर दोनों पक्षों में सुलह कराकर नाबालिग को मां के हवाले कर दिया है. फिलहाल दोनों कोर्ट में तलाक लेने की बात कर रहे हैं.

ये पूरा मामला मवई थाना के रतनपुर गांव का है. यहां की रहने वाली 16 साल की किशोरी, रश्मि का पांच साल पहले 9 साल की उम्र में समगड़ा हंसराजपुर गांव के अजय कुमार के साथ शादी हुई थी. शुक्रवार को उसका पति उसे जबरन विदा कराने आया था और घरवालों का भी किशोरी को जबरदस्ती भेजने का प्लान था. किशोरी ने इसका विरोध किया, लेकिन घरवाले नहीं माने. तब किशोरी ने डायल 100 का नंबर मिलाया और अपनी पीड़ा बताई. जब वायरलेस पर यह गूंज सुनाई पड़ी तो जिला प्रशासन हरकत में आया. पुलिस मौके पर पहुंचकर पति को पकड़ कर थाने ले आई.

कॉलेज की छात्रा के सामने अश्लील हरकत करने पर रेलवे गार्ड गिरफ्तार

किशोरी की मां मुन्नी देवी ने बताया कि उसके पति लखनऊ में रिक्शा चलाते है. गरीबी की वजह से लड़की की शादी चार साल पहले ही करा दी थी. अभी लड़की की उम्र 16 साल है और वह हाईस्कूल में पढ़ रही है. लड़की ससुराल जाना नहीं चाहती है. एक लड़की ने ही खुद हिम्मत करते हुए खुद के जीवन को बचा लिया मगर सवाल यह है कि बाल विवाह को लेकर इतना प्रचार प्रसार होने के बावजूद इस कुरीति से समाज को फ़िलहाल पूर्ण छुटकारा नहीं मिल सका है. 

You may also like

बेटी के पति पर आया सास का दिल, फिर उसके बच्चे की मां बनने के लिए कर डाला ये सब…

मप्र में जनसुनवाई के दौरान रिश्तों को कलंकित