आकर्षक पुरुषों को लेकर महिलाओं की धारणा उनके हार्मोन के स्तर के हिसाब से नहीं बदलती. एक नए अध्ययन में यह पाया गया है जो उस मिथक को तोड़ता है, जिसके मुताबिक जब महिलाओं में हार्मोन का स्तर बढ़ता है, तब वे मर्दाना चेहरों की तरफ ज्यादा आकर्षित होती हैं.

ब्रिटेन की यूनिवर्सिटी ऑफ ग्लासगो के बेनेडिक्ट सी जोन्स ने कहा कि हमें इस बात के कोई प्रमाण नहीं मिले कि हार्मोन स्तर में बदलाव होने से पुरुषों के आकर्षण के बारे में महिलाओं की धारणा में कोई बदलाव आता है. अध्ययन के प्रमुख अनुसंधानकर्ता जोन्स ने कहा कि यह अध्ययन अपने पैमाने और संभावनाओं के कारण गौर करने लायक है.

ईरान परमाणु समझौते पर आज वाइट हाउस में खुद राष्ट्रपति ट्रम्प लेगे अपना निर्णय

पूर्व में हुए अध्ययनों में सीमित साधनों का इस्तेमाल करते हुए कम महिलाओं को शामिल किया गया था. जोन्स ने कहा कि पिछले कुछ समय में यह चिंता का विषय बन गया था कि गर्भनिरोधक दवाओं का सेवन करने से महिलाओं की साथी की पसंद बदल जाती है और रुमानी रिश्ते बिगड़ जाते हैं, लेकिन इन परिणामों में इस बात के कोई प्रमाण नहीं मिलते. यह अध्ययन ‘साइकोलॉजिकल साइंस’ पत्रिका में प्रकाशित हुआ है.