CBI ने कार्ति चिदंबरम की जमानत का किया विरोध, कहा- हमारे पास पुख्ता सबूत

आईएनएक्स मीडिया मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम से सीबीआई गुरुवार सुबह से ही पूछताछ कर रही थी. उनका मेडिकल चेकअप भी करवाया गया है. सीबीआई ने गुरुवार को कार्ति को पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया. सीबीआई ने सुनवाई के दौरान कार्ति और उनके सीए भास्करन को जमानत देने का विरोध किया.

सीबीआई ने कहा कि सारे साक्ष्य उनके खिलाफ हैं, हमारे पास उनके लेन-देन के पुख्ता सबूत हैं. अगर जमानत दी गई तो केस प्रभावित होगा. सीबीआई की मांग है कि कार्ति को 14 दिन की रिमांड पर भेजा जाए.

सुनवाई के दौरान तुषार मेहता, अभिषेक मनु सिंघवी पटियाला हाउस कोर्ट में मौजूद रहे. कोर्ट में कार्ति की मां नलिनी चिदंबरम भी मौजूद हैं. सुनवाई के दौरान कार्ति के सीए ने कहा कि अभी तक किसी पैसों की लेन-देन का पता नहीं चला है. संदेह में सिर्फ 10 लाख रुपए की राशि है. जो आरोप लगाए जा रहे हैं कि मैंने किसी समन का जवाब नहीं दिया है वह गलत है.

सुनवाई के दौरान सीबीआई का पक्ष रखते हुए तुषार मेहता ने कहा कि कार्ति ने उन्हें नहीं बताया कि उन्हें सीने में दर्द है इसके बावजूद उनकी सुबह 7 बजे तक देखभाल में रखा गया. सुबह 8 बजे वह सीबीआई के पास पहुंचे, सीबीआई सिर्फ 10 बजे के बाद पूछताछ कर सकती थी. सीबीआई की मांग है कि अन्य आरोपियों के साथ कार्ति की पूछताछ की जानी है इसलिए उन्हें जमानत ना दी जाए.

You may also like

जसवंत सिंह के बेटे ने बीजेपी से तोड़ा नाता, ‘कहा कमल का फूल हमारी बड़ी भूल’

जयपुर: वरिष्ठ भाजपा नेता जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र