सावधान ! अगर यह 6 लक्षण दिखे, तो समझ लें आपको है दिल की बीमारी

- in हेल्थ

नई दिल्ली: एक अध्ययन की रिपोर्ट में यह खुलासा किया गया है कि दिल की बीमारी को शुरुआत में पकड़ पाना बहुत मुश्किल होता है. यही वजह है कि हर चार में एक व्यक्ति की मौत दिल की बीमारी से होती है. यह अध्ययन लैंसेस्टर यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने किया है. शोधकर्ता और यूनिवर्सिटी के क्लिनिकल एनाटॉमी लर्निंग सेंटर के निदेशक एडम टेलर ने बताया कि दिल की बीमारी की शुरुआत होते ही शरीर के दूसरे हिस्सों में भी कुछ बदलाव होते हैं. लेकिन ये बदलाव इतने छोटे होते हैं कि लोग आमतौर पर ध्यान नहीं देते. सही समय पर इन लक्षणों और बदलावों पर गौर किया जाए तो दिल की बीमारी से होने वाली मौत के खतरे को टाला जा सकता है.

सावधान ! अगर यह 6 लक्षण दिखे, तो समझ लें आपको है दिल की बीमारी1. कान की बाहरी मांसपेशी पर झुर्रियों का आना:

कान के निचले हिस्से में सबसे मोटी मांसपेशी होती है. इसे अंग्रेजी में earlobes कहते हैं. ईयरलोब्स पर यदि आपको झुर्रियां दिखने लगें तो समझ लें कि आपको दिल की बीमारी है. दरअसल इससे यह पता चलता है कि धमनियों में कहीं ना कहीं अवरोध आ गया है. कान पर आई झुर्रियां 40 फीसदी मामलों में दिल की बीमारी का लक्षण बनी हैं.

यह भी पढ़ें: नींद की कमी बढ़ा सकती है मोटापे का खतरा

2. पलकों के ऊपर अतिरिक्त मांस का आना:

डॉक्टरी भाषा में इसे ‘xanthomas’ कहते हैं. पलकों पर ही नहीं, कोहनी, घुटनों और कुल्हों पर भी आपको पीले-पीले दानों की तरह ‘xanthomas’ दिख सकते हैं. ये दाने वैसे भी हानिकारक होते हैं, लेकिन इसका होना किसी बड़ी मुसीबत के आने का लक्षण भी हो सकता है. हालांकि यह ज्यादातर ऐसे लोगों को होता है, जिनके परिवार में पहले किसी को हाईपरकोलेस्ट्रॉलेमिया की बीमारी हुई हो. इससे यह पता चलता है कि व्यक्ति के शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल का स्तर ज्यादा है. कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ते ही यह त्वचा में जमने लगता है. यही नहीं धमनियों में भी फैट जमा होने लगता है, जिसके कारण दिल
की बीमारी होती है.

3. सूजे हुए नाखून:

संभवत: आपने ध्यान जरूर दिया होगा कि कुछ लोगों के नाखून अप्राकृतिक रूप से उठे-उठे लगते हैं. दिल की बीमारी का यह भी महत्वपूर्ण लक्षण होता है. अगर आपके नाखून का आकार अचानक बदल जाए, वह मोटा और चौड़ा हो गया हो तो डॉक्टर से जांच कराएं. दरअसल, ऐसा ज्यादा टिशू यानी कि उत्तक के बनने के कारण होता है. नाखून के आकार में बदलाव या उसमें सूजन से कोई दर्द नहीं होता. लेकिन समझने वाली बात यह है कि आपकी अंगूलियों को ऑक्सीजन युक्त खून ना मिलने के कारण ही उनमें सूजन आती है. यह आपके दिल की बीमारी की शुरुआत हो सकती है. यह सबसे पुराने लक्षणों में एक है.

4. आंखों की पुतली के किनारे ग्रे रंग का दिखना:

40 साल की उम्र के बाद 45 फीसदी लोगों की आखों में आप ग्रे रंग की रिंग देख सकते हैं. वहीं 60 साल से ज्यादा उम्र वाले 70 प्रतिशत वृद्धों में यह देखा जा सकता है. आंखों की पुतली के किनारे ग्रे रंग के घेरे का बनना भी दिल की बीमारी का एक लक्षण है.

5. सड़ा हुआ मसूड़ा और कमजोर दांत:

आपके मुंह और दांत की सेहत भी दिल के रोग से जुड़ा है. कई अध्ययनों में दांत के कमजोर होने और मसूड़ों में सूजन व सड़न को दिल की बीमारी से जोड़कर देखा गया है. शोधकर्ताओं के अनुसार मुंह में मौजूद खराब बैक्टीरिया खून के जरिये हमारी धमनियों और नसों में पहुंच जाता है, जिसके कारण दिल की बीमारी का खतरा बढ़ता है.

6. नीले होठ :

होठ का नीला होना इस बात की ओर संकेत करता है कि आपको ठंड लग रही है. इसका एक मतलब यह भी है कि आपको पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिल पा रहा है, जो दिल की बीमारी का कारण बनता है. अगर होठ नीला पड़ रहा है तो डॉक्टर से जरूर मिलें.

You may also like

सावधान: लगातार बैठने से इन बीमारियों को दे रहे है न्यौता

जब भी थक जाते है तो हम बैठने