वाराणसी में कैंट स्‍टेशन के पास हुए हादसे के घायल बीएचयी समेत कई अस्‍पतालों में भर्ती है. बुधवार को प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष राजबब्‍बर घायलों का हालचाल जानने के लिए अस्‍पताल पहुंचे. अस्‍पताल में घायलों से मुलाकात के बाद उन्‍होंने हैरान कर देने वाला बयान दिया. उन्‍होंने कहा कि पुल हादसे को लेकर उन्‍हें स्‍थानीय लोगों ने बताया कि सरकार लोकसभा चुनाव 2019 से पहले फ़्लाईओवर का काम पूरा करवाना चाहती है. इसके लिए लगातार काम करने का दबाव बनाया जा रहा है. उन्‍होंने कहा कि इसी क्रम में पुल बनाने वालों ने रास्‍ते में आ रहे तीन गणेश जी के मंदिर को ध्‍वस्‍त कर दिया. मंदिर के ध्‍वस्‍त करने का अभिशाप ही पुल हादसे के रूप में सामने आया है.

बड़ी घटना: सुसाइड नोट में मार्मिक बातें लिख छात्रा ने मौत को लगाया गले

मंगलवार शाम को हुआ था हादसा

बता दें कि यूपी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में मंगलवार की शाम एक बड़ा हादसा हो गया था. यहां कैंट रेलवे स्टेशन के पास निर्माणाधीन फ्लाईओवर का एक बड़ा हिस्सा गिर जाने से इसकी चपेट में आकर 18 लोगों की मौत हो गई. इस हादसे में कई वाहन दब गए और 50 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे. फ्लाईओवर का निर्माण उत्तर प्रदेश स्टेट ब्रिज कारपोरेशन करवा रहा था. इस हादसे पर प्रधानमंत्री सहित प्रदेश के मुख्‍यमंत्री आदि ने गहरा शोक जताया है. साथ ही मुख्‍यमंत्री मंगलवार देर रात घायलों से मिलने भी पहुंचे. साथ ही उन्‍होंने हादसे की जांच के आदेश दिए हैं. मुख्‍यमंत्री ने अस्‍पताल जाकर घायलों का भी हालचान जाना था. साथ ही राहत कार्य में तेजी लाने के निर्देश भी दिए थे.