सहेली ने तोड़ा समलैंगिक संबंध तो युवती ने फिंकवाया तेजाब

- in अपराध
गाजियाबाद के साहिबाबाद थाना पुलिस ने बैंककर्मी युवती पर तेजाब फेंकने की घटना का खुलासा कर लिया है। समलैंगिक संबंधों को तोड़ने पर सहेली ने ही युवती पर दो ऑटो चालकों के जरिये तेजाब फिंकवाया था। युवती का चेहरा बिगाड़ने की सुपारी एक लाख रुपये में दी गई थी।
 
पुलिस ने वारदात की मास्टरमाइंड व पीड़िता की सहेली, तेजाब फेंकने वाले दो ऑटो चालकों और तेजाब मुहैया कराने वाले लोगों समेत पांच आरोपियों को भोपुरा तिराहे से गिरफ्तार किया है। इनके पास से 10 हजार की नकदी और वारदात में इस्तेमाल किया गया फोन बरामद हुआ है।
 

एसएसपी वैभव कृष्ण ने प्रेसवार्ता के दौरान बताया कि न्यू कोंडली, अशोक नगर दिल्ली की रहने वाली आरोपी युवती रीना (काल्पनिक नाम) और लाजपतनगर साहिबाबाद निवासी 23 वर्षीय पीड़ित युवती नोएडा सेक्टर-63 में एक ही बैंक में काम करती थीं।

लिस को मिली छह लाशों से इलाके दहशत

दोनों में करीब तीन-चार साल से समलैंगिक संबंध थे। करीब एक साल से लाजपतनगर निवासी युवती ने अपनी सहेली रीना से दूरी बना ली थी। वह एक  युवक अंकित से प्रेम करने लगी थी। यह बात रीना को नागवार गुजरी। उस पर साथ रहने का दबाव बनाने के लिए वह कई बार प्रयास कर चुकी थी।

चार महीने तक करती रही पीछा

acid attack
बीते साल रीना ने पीड़िता के खिलाफ नोएडा के एक थाने में मारपीट की एनसीआर दर्ज करा दी थी। आरोपी युवती पीड़िता के ब्वॉयफ्रेंड से भी अकसर झगड़ती थी, लेकिन पीड़िता अपनी सहेली से संबंध नहीं रखना चाहती थी।
 
रीना ने युवती पर तेजाब फिंकवाकर उसका चेहरा बिगाड़ने की साजिश रची, ताकि वह अपने ब्वॉयफ्रेंड से दूर हो जाए। एसएसपी ने बताया कि घटना से एक दिन पहले यानी सोमवार को भी पीड़िता पर तेजाब फेंकने का असफल प्रयास किया गया था। मंगलवार को मोहननगर मंदिर के पास बाइक सवार दो युवकों ने उसके ऊपर तेजाब फेंक दिया था।
 

आरोपी युवती अपनी सहेली को पाने के लिए उसका रोजाना पीछा करती थी। इसके लिए वह ऑटो का इस्तेमाल करती थी। करीब चार महीने तक पीछा करने के दौरान दो ऑटो चालक आरोपी युवती को पहचानने लगे। एक दिन उन्होंने युवती से पीछा करने का कारण पूछा, तो उसने पूरा माजरा बता दिया। ऑटो चालक खुद भी रुपयों की खातिर उसकी साजिश में शामिल हो गए।
 

एसएसपी ने बताया कि ऑटो चालक लोकेश उर्फ अर्जुन निवासी श्रीराम कालोनी, लोनी और रवि निवासी करावल नगर को रीना ने एक लाख रुपये में तेजाब फेंकने की सुपारी दी। इनमें से 20 हजार रुपये वह एडवांस दे चुकी थी। जल्द ही 10 हजार रुपये और देने वाली थी। बकाया 70 हजार रुपये का भुगतान बाद में किया जाना था।

यह लोग हुए गिरफ्तार 

acid
पुलिस ने सहेली पर तेजाब फिंकवाने की आरोपी युवती, ऑटो चालक रवि और लोकेश उर्फ अर्जुन, तेजाब मुहैया कराने वाले सलमान निवासी बदायूं (हाल पता टीला शहबाजपुर, लोनी) और लोनी में जींस रंगाई की फैक्ट्री चलाने वाले लालू निवासी हरपालपुर, हरदोई को गिरफ्तार किया है।

सलमान ही लालू की फैक्ट्री में केमिकल की सप्लाई देता था। उसी ने रवि और अर्जुन को लालू से तेजाब लेकर बेचा था। पुलिस और प्रशासन ने लालू की फैक्ट्री सील कर दी है। 

ऑटो चालक  चाहते थे अपहरण करना

पुलिस का कहना है कि रीना ने जब तेजाब फेंकने की सुपारी दी तो ऑटो चालकों ने अपहरण करने का भी ऑफर किया था। उनकी मंशा थी कि वह सुपारी की रकम ज्यादा दे, तो वह अपहरण कर या तो हत्या कर दें या उसे सबक सिखाकर छोड़ दें। रीना ने इससे इंकार कर दिया, क्योंकि वह तेजाब से मुंह जलने के बाद भी पीड़ित युवती के साथ जिंदगी बिताना चाहती थी। 

वारदात को अंजाम देने वालों से बात करने को रीना ने खरीदा नया फोन

acid
रीना ने वारदात करने वाले युवकों से बात करने के लिए नया फोन खरीदा था। एसएचओ साहिबाबाद राकेश सिंह ने बताया कि आरोपी युवती के दिल्ली निवासी एक दोस्त को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई।उसने युवती के पास एक नया फोन होने की जानकारी दी। इस पर पुलिस ने युवती से हिरासत में सख्ती से पूछताछ की, तो सारा मामला खुल गया।

युवती ने बताया कि जब वह दिल्ली से चलती थी, तो अपना निजी फोन बंद कर लेती थी। इसके बाद नए फोन से ही ऑटो चालकों से बात करती थी। वहीं ऑटो चालक भी नया फोन रखे हुए थे। कॉल डिटेल के आधार पर पुलिस ने दोनों ऑटो चालकों को दबोचा।

‘क्या मिला जिंदगी बर्बाद करके

बहन की ’पीड़िता के परिजन बृहस्पतिवार दोपहर करीब दो बजे थाने पहुंचे। पीड़िता की बड़ी बहन का सामना आरोपी युवती से हो गया। रोते हुए बड़ी बहन ने कहा कि ऐसा करके तुझे क्या मिला। क्यों मेरी बहन की जिंदगी खराब कर दी।
 
इस पर आरोपी युवती चुपचाप बैठी रही। परिजनों ने कहा कि यदि उनकी बेटी की शिकायत पर पुलिस संज्ञान लेती, तो शायद यह वारदात न होती। वह डीएम और एसएसपी से मिलकर गिरफ्तार सभी आरोपियों को कड़ी सजा दिलाने की अपील करेंगे।
 
 

You may also like

बेटी के पति पर आया सास का दिल, फिर उसके बच्चे की मां बनने के लिए कर डाला ये सब…

मप्र में जनसुनवाई के दौरान रिश्तों को कलंकित