त्रिपुरा फार्मूले पर भाजपा, वाट्सएप पर बूथ लेवल तक लड़ेगी चुनाव

- in मध्यप्रदेश

रायपुर। छत्तीसगढ़ के चुनावी समर में युवा और नए वोटरों को साधने के लिए भाजपा ने त्रिपुरा फार्मूले पर सोशल मीडिया टीम बनाई है। पहली बार सोशल मीडिया की टीम प्रदेश की सभी 90 विधानसभाओं में काम करेगी। इनके काम की मॉनिटरिंग के लिए प्रदेश कार्यालय में आइटी सेल के पदाधिकारियों को तैनात किया गया है।त्रिपुरा फार्मूले पर भाजपा, वाट्सएप पर बूथ लेवल तक लड़ेगी चुनाव

भाजपा का फोकस वाट्सएप पर है और वह बूथ लेवल पर टीम बनाकर चुनाव लड़ने जा रही है। पार्टी ने हर विधानसभा का फेसबुक पेज भी बनाया है। खास बात यह है कि विधानसभा स्तर पर मुद्दे तलाशे जा रहे हैं और क्रिएटिव टीम को भी तैनात किया जा रहा है।

भाजपा आइटी सेल के पदाधिकारियों ने बताया कि सोशल मीडिया टीम में अलग-अलग सेक्टर के वालेंटियर हैं। इसमें समाज के हर वर्ग को जोड़ने का काम किया जा रहा है। विधानसभा क्षेत्र में टीम के सदस्यों को 100-100 वाट्सएप ग्रुप बनाकर जनता को पहले जोड़ना है।

फिर ग्रुप में केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं की चर्चा करना है। टीम के युवा सदस्य युवाओं के मुद्दों पर चर्चा करेंगे, तो इंजीनियर-डाक्टर और कलाकार अपने सेक्टर की बातों और समस्याओं पर फोकस करेंगे। खास बात यह है कि इस सिस्टम में गांव से लेकर प्रदेश स्तर तक को जोड़ने का काम किया जा रहा है।

गांव के क्लस्टर में भी प्रदेश के पदाधिकारी होंगे और ग्रुप की मॉनिटरिंग करेंगे। सोशल मीडिया टीम को विधानसभा स्तर पर मिलने वाले हर फीडबैक को तत्काल प्रदेश की टीम को भेजना है। अगर टीम को किसी समस्या की जानकारी मिल रही है, तो उसका स्थानीय स्तर पर निराकरण का भी काम किया जाएगा।

ऐसे काम करेगी टीम

भाजपा आइटी सेल के पदाधिकारियों ने बताया कि हर पदाधिकारी को निर्देश दिया गया है कि कम से कम 100 वाट्सएप ग्रुप बनाएं और पार्टी की नीतियों को पहुंचाएं। इसमें पहली बार के वोटरों के लिए अलग ग्रुप बनाया जा रहा है। यह टीम केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं के साथ कांग्रेस के दुष्प्रचार का लगातार जवाब देगी।

प्रोफेशनल से भरी है नई टीम

बताया जा रहा है कि सोशल मीडिया में अलग-अलग सेक्टर के एक्सपर्ट को शामिल किया गया है। इसमें इंजीनियर, डाक्टर, आर्किटेक्ट, कलाकार और युवा नेताओं को शामिल किया गया है। यह टीम पूरी तरह से त्रिपुरा की तर्ज पर काम करेगी। अगर टीम को किसी समस्या का फीडबैक मिलेगा, तो उसे दूर करने का भी इंतजाम किया गया है।

पहली बार के एक लाख 20 हजार वोटर

भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने बताया कि 2018 के विधानसभा चुनाव में अब तक एक लाख 20 हजार नए वोटर जुड़ गए हैं। ये वोटर 18-19 वर्ष की आयु के हैं। इसमें इसमें 68 हजार पुरुष और 50 हजार से ज्यादा महिला वोटर हैं। सोशल मीडिया के माध्यम से इन वोटरों तक पार्टी की नीतियों को पहुंचाया जाएगा और इनकी समस्याओं को भी दूर करने का प्रयास किया जाएगा।

क्या है त्रिपुरा फार्मूला

भाजपा आइटी सेल के पदाधिकारियों ने बताया कि त्रिपुरा में हर विधानसभा में आइटी सेल की टीम को तैनात किया गया था। टीम ने गांव-गांव का वाट्सएप्प ग्रुप बनाया। फेसबुक पर ग्रुप बनाया। लोगों तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के विजन और मिशन के बारे में जानकारी दी। उम्मीदवार चयन में फीडबैक लिया और वोटर को बूथ तक पहुंचाने का भी काम किया।

– भाजपा चुनाव में सबसे ज्यादा वाट्सएप पर फोकस कर रही है। गांव-गांव में मजबूत प्लेटफार्म तैयार किया गया है। अभी जिला और मंडल तक फोकस था, लेकिन अब बूथ स्तर पर पहुंचा जा रहा है। 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

भय्यू जी महाराज का महंगा शौक तो नहीं बना सुसाइड का फैक्‍टर

इंदौर । भय्यू जी महाराज आत्‍महत्‍या मामले को उनके