बीजेपी विधायक मामला: विपक्ष के निशाने पर सरकार, अखिलेश ने मांगा सीएम योगी का इस्तीफा

उन्नाव के बीजेपी विधायक रेप का आरोप लगाने वाली पीड़िता के पिता की जेल में मौत से यूपी की सियासत एक बार फिर गरमा गई है। पूर्व मुख्यमंत्री व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस मुद्दे पर सीएम योगी के इस्तीफे की मांग की है। उन्होंने कहा पुलिस कस्टडी में हुई रेप पीड़िता के पिता की मौत की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए।

मुख्यमंत्री आवास पर आत्मदाह की कोशिश करनेवाली दुष्कर्म की पीड़िता के पिता की ‘पुलिस कस्टडी’ में दर्दनाक मृत्यु अत्यंत दुखदायी है। इसकी सर्वोच्च स्तरीय निष्पक्ष जाँच होनी चाहिए। महिलाओं के मान की रक्षा के लिए नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए मुख्यमंत्री को तुरंत इस्तीफ़ा दे देना चाहिए।

बताते चलें कि रविवार को उन्नाव के माखी थानाक्षेत्र की रहने वाली युवती ने उन्नाव से भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर रेप का आरोप लगाते हुए सीएम आवास के बाहर आत्मदाह करने का प्रयास किया था। पीड़िता ने बताया कि जून 2017 में विधायक ने उसे बंधक बनाकर कई बार रेप किया था। यहीं नहीं, विधायक ने अपने गुर्गों से भी रेप कराया। पीड़िता ने थाने में आरोपी विधायक के खिलाफ तहरीर दी, तो पुलिस ने कार्रवाई नहीं की और उसे टरका दिया। 

भारत-पाकिस्तान के संघर्ष से प्रभावित हो रहे हैं केरल के किसान

राजधानी पुलिस ने उसे कार्रवाई का आश्वासन देकर शांत कराया था। मामले की जांच शुरू भी नहीं की थी कि सोमवार सुबह करीब तीन बजे उन्नाव जेल में बंद पीड़िता के पिता की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। मारपीट और आर्म्स एक्ट के एक मामले में पीड़िता के पिता को न्यायिक हिरासत में लिया गया था। 

मौत की खबर मिलते ही पूरा प्रशासनिक अमला हरकत में आ गया। डैमेज कंट्रोल की कोशिशों के बीच उन्नाव के एसओ और चार सिपाहियों को सस्पेंड कर दिया। गृह विभाग ने इस पूरे मामले की रिपोर्ट तलब की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

‘नमोस्तुते माँ गोमती’ के जयघोष से गूंजा मनकामेश्वर उपवन घाट

विश्वकल्याण कामना के साथ की गई आदि माँ