बड़ी खुशखबरी: केंद्र सरकार ने रेलवे भर्ती में आयु सीमा की छूट के बाद अब एग्जाम फीस में भी दी राहत

- in Mainslide, करियर, बड़ी खबर

केंद्र सरकार ने रेलवे भर्ती में आयु सीमा में छूट देने के बाद बुधवार को एक और बड़ी राहत की घोषणा की है. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि रेलवे भर्ती के दौरान एग्जाम फीस के रूप लिए गए पैसे एग्जाम में बैठने के बाद अभ्यार्थी के खाते में वापस जमा करा दिए जाएंगे. उन्होंने बताया कि रेलवे एग्जामिनेशन फीस के रूप में आरक्षित वर्ग से 250 रुपये और सामान्य वर्ग से 500 रुपये की फीस ली जा रही है. जब अभ्यार्थी एग्जाम में बैठेगा तो आरक्षित वर्ग की पूरी फीस 250 रुपये तथा सामान्य वर्ग के छात्रों को 400 रुपये वापस उनके खाते में जमा करा दिए जाएंगे. एक और राहत का ऐलान करते हुए रेल मंत्री ने बताया कि अभ्यार्थी के हस्ताक्षर पर भाषा की सीमा को हटा दिया गया है. रेलवे बोर्ड के एग्जाम में छात्र किसी भी भाषा में अपने हस्ताक्षर कर सकता है. 

बड़ी खुशखबरी: केंद्र सरकार ने रेलवे भर्ती में आयु सीमा की छूट के बाद अब एग्जाम फीस में भी दी राहत

90 हजार भर्तीयां
मोदी सरकार के रोजगार अभियान के तहत इंडियन रेलवे ने करीब 90 हजार भर्तियां निकाली हैं. रेलवे ने लोको पायलट एवं तकनीशियनों समेत ग्रुप सी और डी के पदों के लिए आवेदन मंगाया है. पदों के लिए आवेदन ऑनलाइन माध्यम से किया जाएगा.

इन पदों के लिए करें आवेदन
ग्रुप डी में अलग-अलग डिपार्टमेंट में हेल्पर की 62,907 पदों पर भर्तियां की जाएंगी. खास बात यह है कि इन पदों के लिए आईटीआई प्रमाणपत्र होना जरूरी नहीं है. इसके अलावा असिस्टेंट लोको पायलट के लिए 26,502 पदों पर भर्तियां की जाएंगी. इस तरह से रेलवे में कुल 89409 रिक्त पदों को भरा जाएगा. आपको बता दें कि इन पदों को भरने का फैसला सितंबर 2017 में ही ले लिया गया था. 

बयान में बताया गया है कि इन पदों के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता 10वीं तथा आईटीआई (इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट सर्टिफिकेट) का प्रमाणपत्र है. आवेदन की आखिरी तारीख 5 मार्च 2018 है. आवेदन के लिए इंडियन रेलवे की ऑफिशियल वेबसाइट indianrailwayrecruitment.in पर जाकर नौकरी के लिए आवेदन दे सकते हैं. 

अभी-अभी: हाईस्कूल लखनऊ में विज्ञान की परीक्षा निरस्त, अब 10 मार्च को होगी परीक्षा

विरोध के बाद उम्र की सीमा में छूट
बिहार और केरल में विरोध प्रदर्शनों के बाद रेलवे ने सोमवार को विभिन्न पदों पर नियुक्ति की ऊपरी आयु सीमा में छूट दी और कहा कि बांग्ला और मलयालम सहित क्षेत्रीय भाषाओं में भर्ती परीक्षा लेने का विकल्प उपलब्ध कराया जाएगा. अनारक्षित श्रेणी में सहायक लोको पायलट और लोको पायलट की ऊपरी उम्र सीमा 28 से बढ़ा कर 30 कर दी गई है. इन पदों पर ओबीसी के लिए 31 वर्ष से उम्र सीमा बढ़ाकर 33 कर दी गई है. एससी और एसटी श्रेणी में वर्तमान 33 साल की उम्र को बढ़ा कर 35 साल कर दिया गया है. इसी तरह ग्रुप डी परीक्षाओं में अनारक्षित श्रेणी में ऊपरी उम्र 28 से बढ़ा कर 30 कर दी गई है. ओबीसी में ऊपरी उम्र सीमा 34 से बढ़ा कर 36 जबकि एससी एवं एसटी में 36 से बढ़ा कर 38 कर दी गई है. 

रेलवे भर्ती बोर्ड वेबसाइट के जरिए जनवरी और फरवरी में ऑनलाइन आवेदन मंगाया गया था. इसमें करीब 90,000 विभिन्न पद थे जिसमें ग्रुप सी लेवल (पूर्व में ग्रुप डी) और ग्रुप सी लेवल द्वितीय श्रेणी के पद शामिल हैं. बयान में कहा गया गया है, “यह भी निर्णय लिया गया है कि परीक्षा लेने के लिए अभ्यर्थियों को मलयालम, तमिल, कन्नड, ओडिया, तेलुगू, बांग्ला और अन्य भाषाओं में प्रश्नपत्र उपलब्ध कराया जाएगा.” 

 

You may also like

अपने जीन्स में मौजूद कैंसर के खतरे से अनजान हैं 80 फीसदी लोग

दुनिया भर में कैंसर के मामलों में तेजी