इस खूबसूरत महिला की शक्ल पर मत जाईये, इसके कारनामे कंपा देंगी आपकी रूह

आये दिन हमारे देश में अपराधों की संख्या बढ़ती ही जा रही हैं. कड़े नियम कानून होने के बावजूद अपराध कम होने का नाम नहीं ले रहे. रोज़ कोई न कोई ऐसी ख़बर मिल ही जाती है जो हम सब का सिर शर्म से झुका देती है. लूट-पाट, मर्डर या बलात्कार, सबमें हमारा देश नंबर वन बनते जा रहा है. कभी मर्डर का मामला सामने आता है तो कभी महिलाओं के साथ रेप का. यह तो महज़ एक उदाहरण हैं. अगर गिनने बैठ जाएं तो गिनती खत्म हो जायेगी लेकिन अपराध नहीं. आज हम आपको एक ऐसी खबर सुनाने जा रहे हैं जिसे सुनकर आपकी रूह कांप जायेगी. इस वारदात ने एक बार फिर रिश्तों पर से हम सबका भरोसा उठा दिया है. राजस्थान के चिड़ावा जिले किशोरपुरा के सुनील जांगिड़ की बीते 1 जनवरी को संदिग्ध हालत में मौत हो गई है. पुलिस द्वारा जांच करने पर जो सच सामने आया वो बेहद चौंकाने वाला था.इस खूबसूरत महिला की शक्ल पर मत जाईये, इसके कारनामे कंपा देंगी आपकी रूह  

आस-पड़ोस के लोगों की मानें तो सुनील परिवार से दूर रहकर मस्कट में नौकरी करता था. लेकिन दो साल पहले सुनील के पिता की तबियत ख़राब हो गई. पिता की तबियत ख़राब होने की वजह से नौकरी छोड़कर वह मस्कट से वापस भारत आ गया और यही रहने लगा. मस्कट में रहने के दौरान उसके पिता की तबियत ज्यादा ख़राब हो गई थी तब उसकी पत्नी मनीषा ने अपने ससुर को अस्पताल ले जाने के लिए अपने मायके से एक गाड़ी मंगवाई. गाड़ी लेकर बलवान नाम का एक ड्राइवर भी साथ आया. लेकिन सुनील की जिंदगी में बलवान किसी तूफान से कम साबित नहीं हुआ.इस खूबसूरत महिला की शक्ल पर मत जाईये, इसके कारनामे कंपा देंगी आपकी रूह

 

धीरे-धीरे सुनील की पत्नी मनीषा और ड्राइवर बलवान में नजदीकियां बढ़ने लगी थीं. दोनों को एक-दूसरे से प्यार हो गया था. ऐसे में सुनील उनके बीच दीवार बन गया था. इसलिए दोनों ने घर से भागने का निर्णय लिया. मनीषा और बलवान घर से भाग गए पर तीन-चार दिन बाद दोनों वापस भी आ गए. बलवान पर पुलिस ने शांति भंग करने का आरोप लगाते हुए उसे गिरफ्तार भी किया. गिरफ्तारी से बौखलाए मनीषा और बलवान ने सुनील को मारने का प्लान बनाया.

इस खूबसूरत महिला की शक्ल पर मत जाईये, इसके कारनामे कंपा देंगी आपकी रूह

उन्होंने सुनील को ज़हरीला पदार्थ खिलाकर मौत के घाट उतार दिया. इस दिल दहला देने वाली घटना को अंजाम देते ही बलवान और मनीषा वहां से फरार हो गए. बता दें कि सुनील के भतीजे प्रदीप ने मनीषा और बलवान के अलावा तीन अन्य लोगों के नाम FIR दर्ज करवाई है. फिलहाल के लिए पुलिस उनकी तलाश कर रही है.

Facebook Comments

You may also like

माइनस 23 अंक वालों को माना योग्य, सरकार और आरपीएससी को नोटिस

गणित विषय के वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2016 के