टोक्यो ओलिंपिक में ये बड़ा कमाल करना चाहती हैं सिंधु

- in खेल

भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधु ने मंगलवार को कहा कि वह टोक्यो ओलिंपिक 2020 में अपने ओलिंपिक पदक का रंग बदलना चाहती हैं। सिंधू ने रियो ओलिंपिक में रजत पदक जीता था अब वह टोक्यो में इसे स्वर्ण में बदलने को लेकर अग्रसर है।

हैदराबादी बाला ने कहा, ‘मेरी कोशिश रजत को स्वर्ण में बदलने की रहेगी। मेरा यह सपना है और मुझे पूरी उम्मीद है कि मैं इसे पूरा करने में सफल रहूंगी।’ सिंधु ने अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ विश्व रैंकिंग नंबर दो हासिल की। उन्होंने कहा, ‘मैं इस साल नंबर एक खिलाड़ी बनाना चाहती हूं। यह बड़ा साल है और अगला टूर्नामेंट ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप है। इसके अलावा कॉमनवेल्थ गेम्स और एशियाई खेल भी होने हैं। मैं फाइनल में हार रही हूं लेकिन यहां तक पहुंचना भी अच्छा है। करीबी मुकाबले हारना निराशाजनक है। हर टूर्नामेंट महत्वपूर्ण है खासकर विश्व चैंपियनशिप और उसका फाइनल हारना अच्छा नहीं रहा।’

आईसीसी की रैकिंग में छाये बुमराह बने वर्ल्ड नंबर-1, बनाया अनोखा रिकॉर्ड

फाइनल में पहुंचना चाहता हूं : श्रीकांत

भारत के स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत ने कहा कि वह टोक्यो ओलिंपिक के फाइनल में पहुंचकर देश के लिए पदक जीतना चाहते हैं। रियो में वह क्वार्टर फाइनल से आगे नहीं बढ़ पाए थे। विश्व के पांचवें नंबर के खिलाड़ी श्रीकांत ने कहा, ‘मेरा 2016 ओलिंपिक का क्वार्टर फाइनल मैच काफी करीबी था, इसलिए अब मैं परिदृश्य बदलना चाहता हूं और टूर्नामेंट में आगे बढ़ना चाहता हूं। मैं फाइनल में पहुंचकर पदक जीतना चाहता हूं। यह मेरा सपना है और इसे पूरा करने के लिए मैं अपनी तरफ से हर संभव कोशिश करूंगा।’

You may also like

रवीन्द्र जडेजा का झलका दर्द, कहा- वन-डे टीम में शामिल होने के लिए इतने दिनों किया इंतजार

दुबई। अपने वापसी मैच में ही चार विकेट लेकर