एशियाई खेलों में इवेंट के दूसरे दिन भारत के पदकों की संख्या में इजाफा देखने को मिल सकता है. भारत आज कुल 12 खेलों में शिरकत करेगा लेकिन उसके गोल्ड मेडल हासिल करने की सबसे तगड़ी उम्मीद महिला कुश्ती में होगी. वूमेन्स रेसलिंग में आज 62 किलोग्राम फ्री-स्टाइल इवेंट में ओलंपिक ब्रॉन्ज मेडलिस्ट साक्षी मलिक और 50 KG फ्री-स्टाइल इवेंट में विनेश फोगाट के दांव पेंच पर पूरे भारत की निगाहें होंगी.

साक्षी, विनेश के साथ पूजा ढांडा पर भी निगाह

हालांकि, 57 किलोग्राम वर्ग में पूजा ढांडा के पैंतरों को भी सुनहरी जीत के लिहाज से कम नहीं आंका जा सकता. पूजा ढांडा पहली बार सुर्खियों में तब आईं जब उन्होंने रेसलिंग के IPL कहे जाने वाले प्रो रेसलिंग लीग की मैट पर बैक टू बैक दो मुकाबलों में वर्ल्ड चैम्पियन और ओलंपिक चैम्पियन दोनों को धूल चटाई थी.

पुरुषों की कुश्ती में सुमित पर फोकस

इसके अलावा पुरुषों के सुपर हेवीवेट कैटेगरी यानी 125 किलोग्राम में सुमित का दम भी पदक की गारंटी बन सकता है.

इन खेलों में बनती दिखेगी बात

रेसलिंग के अलावा आज भारत का परचम कबड्डी, बैडमिंटन, टेनिस और निशानेबाजी जैसे खेलों में भी बुलंद होता दिखेगा, जिससे मेडल की संख्या की आस बढ़ती दिखेगी.

एशियन गेम्स 2018 में अपूर्वी-रवि पहुँचे एयर राइफल मिक्स्ड के फाइनल में

पहले दिन 2 मेडल- 1 गोल्ड, 1 ब्रॉन्ज

बता दें कि एशियाई खेलों का पहला दिन भारत के लिए मिला-जुला रहा था. भारत ने इवेंट के पहले दिन की शुरुआत शूटिंग में मिले ब्रॉन्ज मेडल से की तो वहीं दिन का अंत कुश्ती में मिले गोल्ड मेडल से किया. 18वें एशियाई खेलों में भारत के पहला गोल्ड मेडल रेसलर बजरंग पुनिया ने पुरुषों के 65 किलो फ्री-स्टाइल इवेंट में जीता. हालांकि, ब्रॉन्ज और गोल्ड के बीच एक बड़ी खबर भारत के सुपर स्टार रेसलर सुशील कुमार के सनसनीखेज हार की भी आई.