चौथी बार एंजला मर्केल चुनी गईं जर्मनी की चांसलर

विश्व की ताकतवर नेताओं में से एक जर्मनी की चांसलर एंजला मर्केल लगातार चौथी बार आज देश के शीर्ष पद के लिए चुनी गयी हैं. संसद ने आज मर्केल को यूरोप की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था का प्रमुख चुना. संसद में364 में से 315 सांसदों ने मर्केल के पक्ष में वोट दिया जबकि नौ अनुपस्थित रहे. पद के लिए शपथ लेने से पहले राष्ट्रपति फ्रैंक- वाल्टर स्टेनमियर मर्केल को औपचारिक रूप से नियुक्त करेंगे.

कौन हैं एंजला मर्केल

जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल, विश्व में एक शक्तिशाली महिला और शासक के रुप में जानी जाती हैं. एंजेला मर्केल का जन्म 17 जुलाई 1954 को हैम्बर्ग, पश्चिमी जर्मनी में हुआ था. एंजेला मर्केल वर्ष 2000 से क्रिस्टियन डेमोक्रेटिक यूनियन (जर्मनी) का नेतृत्व कर रही हैं. फोर्ब्स द्वारा विश्व के सबसे प्रभावशाली लोगों की वर्ष 2014 की सूची में एंजेला मर्केल को महिलाओं में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ और वर्ष 2013 की संयुक्त सूची में पाँचवाँ स्थान प्राप्त हुआ है. एंजेला मर्केल को रसायन विषय में क्वांटम थ्योरी पर काम करने के कारण डॉक्टरेट की उपाधि भी मिली है.

सबसे खुशहाल देशों की लिस्ट में टॉप पर है ये देश, जानें किसको मिला कौन सा स्थान

वहीं, टाइम मैगजीन ने वर्ष 2015 में भी जर्मनी की चांसलर एंजेला मार्केल को ‘पर्सन ऑफ द ईयर’चुना था. उन्हें यह सम्मान यूरोप में विषम परिस्थितियों में उनके द्वारा प्रदान किए गए सराहनीय नेतृत्व के लिए दिया गया था. वर्ष 1927 के बाद से मर्केल चौथी बार इस सम्मान से चुना गया था. मर्केल से पूर्व सिर्फ तीन और महिलाएँ इस सम्मान से सम्मानित हुई हैं.

 

You may also like

मालदीव राष्ट्रपति चुनाव में यामीन को मिली हार, भारत समर्थक इब्राहिम मोहम्मद सोलिह जीते

भारत के लिए हिंद महासागर में खास अहमियत