SC के फैसले के बाद राहुल गांधी का बयान, BJP पैसे और ताकत का प्रयोग करेगी

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक में कल शाम चार बजे बहुमत परिक्षण कराने का फैसला सुनाया है. सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट करके बीजेपी का नाम लिए बिना हमला बोला है. राहुल गांधी ने कहा है कि वह (बीजेपी) अब अपने पैसे और ताकत का प्रयोग करेगी. कांग्रेस ने दावा किया है कि हमारे साथ पूरे 78 विधायक हैं.

राहुल गांधी ने क्या कहा है?

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ”सुप्रीम कोर्ट के आदेश ने साबित कर दिया है कि राज्यपाल वजुभाई वाला ने असंवैधानिक काम किया. बीजेपी ने संख्या न होने के बाद गलत तरीके से सरकार बनाई, जिसे कोर्ट ने रोक दिया.” उन्होंने कहा, ‘’कानूनी तौर पर रोके जाने के बाद अब वे बहुमत के लिए पैसे और ताकत का प्रयोग करेंगे.’’

कांग्रेस ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा, ”संविधान के मुताबिक, राज्यपाल ने काम नहीं किया. ऐसा सिर्फ कर्नाटक में ही नहीं बल्कि गोवा, मणिपुर और मेघालय जैसे राज्यों में भी हुआ. बीजेपी ने वो नियम ही बदलकर रख दिया जिसके तहत सबसे बड़ी पार्टी को मौका मिलता रहा है.”

आतंकवादियों ने जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में बैंक से लूटा कैश

बहुमत साबित करके रहेंगे- येदुरप्पा

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने मीडिया के सामने कहा है कि वह कोर्ट के आदेश का पालन करते हैं. येदुरप्पा ने यह भी कहा है कि कल वह 100 फीसदी बहुमत साबिक करके रहेंगे.

बीजेपी के संपर्क में 12 विधायक- सूत्र

सूत्रों के मुताबिक बीजेपी के संपर्क में कांग्रेस के आठ, जेडीएस के दो और दो निर्दलीय विधायकों सहित कुल 12 हैं. ऐेसे में बीजेपी के 104  विधायकों में 12 विधायकों को जोड़ दिया जाए तो बीजेपी के पास 116 सीटें हो जाएंगी, जो बहुमत के आंकड़े 112 से चार ज्यादा हैं.

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने राज्यपाल का आदेश पलटते हुए कहा है कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदुरप्पा को कल शाम चार बजे तक बहुमत परिक्षम साबित करना होगा. राज्यपाल ने येदुरप्पा को बहुमत साबित करने के लिए 15 दिनों का वक्त दिया था.

क्या है पूरा मामला?

कर्नाटक में बीजेपी को 104, कांग्रेस को 78 और जेडीएस को 38 सीटें हासिल हुई थीं. इसके अलावा अन्य को दो सीटें हासिल हुई थीं. 224 विधानसभा वाले इस राज्य में इन नतीजों के बाद कोई भी पार्टी सरकार बनाने की स्थिति में नहीं है. इस बीच कांग्रेस ने काउंटिंग पूरी होने से पहले ही जेडीएस को बिना शर्त समर्थन दे दिया, जिसे जेडीएस ने स्वीकार भी कर लिया. चुनाव के बाद बने इस गठबंधन के पास बहुमत का आंकड़ा आ गया. लेकिन राज्य के राज्यपाल वजुभाई वाला ने बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता दिया, जिसके विरोध में कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाया खटखटाया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

सड़क पर चलना हो जाएगा महंगा, पेट्रोल के बाद 14% तक चढ़ सकते हैं CNG के दाम!

सड़क पर चलने वालों के लिए बुरी खबर है.