10 इंसानों के साथ न जाने कितने बेजुबानों की जान ले गई ये ‘कयामत की रात’

​बुंदेलखंड और सेंट्रल यूपी में रविवार देर रात आंधी, चक्रवाती तूफान और बारिश से कहीं राहत मिली तो कहीं भारी तबाही हुई। इस दौरान हुए हादसों में दस लोगों की जान चली गई। कई लोग घायल हुए।

10 इंसानों के साथ न जाने कितने बेजुबानों की जान ले गई ये ‘कयामत की रात’

मरने वालों में सबसे ज्यादा चार लोग फतेहपुर के हैं। इसके अलावा कानपुर नगर व कानपुर देहात में दो-दो तथा कन्नौज और बांदा में एक-एक मौत हुई। घायलों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। जालौन में ओले भी गिरे। 

ये भी पढ़े: यूं ही नहीं फैशन ट्रेंड बन गया ‘भगवा गमछा’, जानकर हैरान रह जाएंगे कहां से हो रहा सप्लाई

 चित्रकूट, हमीरपुर, महोबा में तेज हवाओं के साथ झमाझम बारिश हुई। जालौन में बारिश के साथ ओले भी गिरे। फतेहपुर में चार, कानपुर नगर व कानपुर देहात में दो-दो, बांदा-कन्नौज में एक-एक मौत 

 सेंट्रल यूपी में आंधी-पानी से फतेहपुर में भारी तबाही हुई। यहां किशोरी समेत चार लोगों की मौत हो गई। अलग-अलग घटनाओं में 20 लोग घायल हो गए। घायलों को स्वास्थ्य केंद्रों में भर्ती कराया गया है।

ये भी पढ़े: इस मंत्री के बेतुके बयान को सुनकर आप सभी हो जायेंगे हैरान, डाकुओं से कर रहे शराब-बीड़ी छोड़ने की प्रार्थना

इस तस्वीर में कानपुर का रामगोपाल चौराहा नजर आ रहा है। जहां आंधी ने रविवार रात जमकर कहर बरपाया। बिजली के पोल उखड़े मिले।

​2 पोल लाइट फ्लड टॉवर और सोडियम लाइटें कानपुर के इस चौराहे पर भी गिरी मिली। जबकि एक खंबा झूलता मिला। स्थानिय लोगों ने इसकी शिकायत कर दी है लेकिन सिर पर झूलती मौत को दूर करने कोई नहीं आया।

 

You may also like

ये ममी ले रही है आज भी सांस…

हमारी आज की कहानी जुड़ी है शिव की