वेनेजुएला में चुनाव से पहले 50,000 EVM मशीन जलकर हुई खाक

वेनेजुएला की चुनाव परिषद ने रविवार को कहा कि राजधानी काराकस के एक मुख्य गोदाम में आग लगने से स्टोर कर रखी गईं ज्यादातर वोटिंग मशीनें नष्ट हो गईं. इस हादसे ने इस साल होने वाले संसदीय चुनावों को मुश्किल कर दिया है. चुनाव परिषद की प्रमुख टिबिसे लुसेना ने कहा कि करीब 50,000 वोटिंग मशीनें और 600 कंप्यूटर आग की जद में आने के कारण जल गए.

लुसेना ने टेलीविजन पर प्रसारित एक बयान में कहा, आग इतनी तेजी से फैली कि बहुत कम वोटिंग मशीनें और कंप्यूटर को बचाया जा सका. उन्होंने कहा, कुछ लोग ये सोचते हैं कि इससे संवैधानिक रूप से स्थापित चुनावी प्रक्रियाएं संपन्न नहीं हो पाएंगी, तो ये गलत है.

हालांकि, उन्होंने इस पर विस्तार से जानकारी नहीं दी कि अभी भी कितनी वोटिंग मशीनें इस्तेमाल के लिए उपलब्ध हैं या कैसे यह घटना भविष्य के चुनावों को प्रभावित करेगी.

राष्ट्रपति मादुरो पर वोटों की धांधली का आरोप

लुसेना ने कहा कि उन्होंने स्टेट प्रोसेक्यूटर्स (राज्य के अभियोजकों) को आग लगने के कारणों को जानने के लिए कहा था, हालांकि इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ है.

जानें क्यों कोरोना वायरस को लेकर WHO ने की चीन की तारीफ, सामने आई ये तजा रिपोर्ट…

बता दें कि दक्षिण अमेरिकी देश वेनेजुएला के चुनावों की भारी आलोचना तब हुई जब राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने 2018 के चुनावों में एक बार फिर जीत दर्ज थी और उन पर व्यापक रूप से वोटों की धांधली का आरोप था.

दुनियाभर में इसके बाद मादुरो सरकार की आलोचना हुई. वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो पर आम चुनाव कराने को लेकर अतंरराष्ट्रीय दबाव बढ़ता जा रहा है.

बता दें कि वेनेजुएला में इस साल संसद के लिए चुनाव है, जिसे वर्तमान में विपक्ष नियंत्रित कर रहा है. हालांकि, राष्ट्रपति मादुरो के विरोधियों की मांग है कि नए राष्ट्रपति के लिए चुनाव हो.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6 − 6 =

Back to top button