4 लोगों की जान बचाने के लिए गंदे नाले में कूदा सिपाही

- in अपराध

ताजनगरी आगरा में एक पुलिसकर्मी ने चार लोगों की जान बचाने के लिए जिस वीरता का परिचय दिया है, वह मिसाल पेश करने वाला है. आगरा के सिकंदरा थाने पर तैनात सिपाही उम्मेद अली की पुलिस महकमे में ही नहीं, चारों ओर से तारीफ हो रही है. उत्तर प्रदेश के DGP ओपी सिंह ने उम्मेद अली को उनकी बहादुरी के लिए कमेंडेशन डिस्क से नावजने की घोषणा की है.

साथ ही उम्मेद अली को ‘कॉप ऑफ द मंथ’ पुरस्कार भी प्रदान किया जाएगा. उम्मेद अली को यह अवॉर्ड और तारीफें चार जिंदगियों को बचाने के लिए अपनी जान दांव पर लगा देने के चलते मिल रहा है.

दरअसल सिकंदरा के इंडस्ट्रियल एरिया में एक कार दुर्घटनाग्रस्त हो गहरे गंदे नाले में जा गिरी. कार में चार लोग सवार थे. एक प्रत्यक्षदर्शी ने सिपाही उम्मेद अली को इसकी सूचना दी. घटनास्थल से थोड़ी ही दूर चीता मोबाइल पर तैनात सिपाही उम्मेद अली घटना के बारे में सुन पैदल ही दौड़ पड़े.

गो तस्करों ने की पुलिस पर फायरिंग, दो बदमाशों को धर दबोचा

घटनास्थल पर पहुंचकर उम्मेद अली ने बिना समय गंवाए अपने कपड़े उतारे, एक रस्सी नाले में लटकाई और वहां मौजूद स्थानीय लोगों को रस्सी पकड़ा नाले में छलांग लगा दी. नाले में इंडस्ट्रीज का कचरा बहता है, जिससे नाले का पानी रसायनों के चलते जानलेवा है.

नाले में प्राणघातक रसायनों, बदबू और दम घोंटने वाली गंदगी की परवाह न कर अपनी जान पर खेलकर उम्मेद अली ने नाले में डुबकी लगा दी. उन्होंने ईंट से कार का शीशा तोड़कर दो युवकों और दो युवतियों को रस्सी के सहारे नाले से बाहर निकाला.

इस दौरान उम्मेद अली की मदद के लिए पुलिस नहीं पहुंच सकी थी. उम्मेद अली की हिम्मत देख स्थानीय लोगों ने उनकी मदद की. उम्मेद अली एक-एक कर कार से घायलों को बाहर निकाल रहे थे. वहां मौजूद लोगों ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया.

 

 

 

You may also like

प्रेमिका को फंसाने के लिए युवक ने ले ली दोस्त की जान, जाने पूरा मामला

यूपी के आजमगढ़ में एक युवक ने अपनी