मुंबई में 4 घंटे बाद खत्म हुआ रेलवे अप्रैंटिस छात्रों का धरना, पटरी पर लौटी लोकल

- in राष्ट्रीय

स्थायी नौकरी की मांग को लेकर रेलवे अप्रैंटिस छात्रों के द्वारा मंगलवार सुबह मुंबई में लोकल ट्रेनों को रोक दिया गया था. प्रदर्शन की वजह से करीब 4 घंटे रेलवे का यातायात प्रभावित हुआ. जिसके बाद अब धीरे-धीरे ट्रेनों को निकाला जा रहा है. जिस जगह छात्र प्रदर्शन कर रहे थे, वहां पर एक ट्रैक को खाली करा दिया गया है. करीब 4 घंटे बाद ये आंदोलन अब खत्म हो गया है.

रेलवे में स्थायी नौकरी की मांग को लेकर माटुंगा और दादर के बीच ट्रेनी अप्रैंटिंस छात्रों ने ट्रैक पर जाम लगा दिया था. छात्रों के हंगामे के कारण यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था.

प्रदर्शनकारियों की मांग थी कि 20 फीसदी कोटा को हटा दिया जाए और स्थायी नौकरी दे दी जाए. प्रदर्शनकारियों का कहना है कि वह पिछले 4 साल से शांतिपूर्ण ढंग से अपनी मांग को उठा रहे हैं, लेकिन सरकार की ओर से कोई जवाब नहीं दिया गया है.

उधर, सेंट्रल रेलवे ने बयान जारी कर कहा है कि रेलवे अप्रैंटिशिप में ट्रेनिंग का प्रावधान है और नौकरी देने की कोई व्यवस्था नहीं है.

इस मामले पर सियासत भी शुरू हो गई है. महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के संदीप देशपांडे ने आजतक से कहा था कि जब तक रेल मंत्री पीयूष गोयल लिखित में आश्वासन नहीं देते हैं, तब तक वहां से कोई नहीं हटेगा. इस प्रदर्शन के कारण मुंबई के मशहूर डब्बावालों के काम पर भी असर पड़ा है. डब्बावाले कुर्ला इलाके से ही लोकल ट्रेन के जरिए अपनी सर्विस को आगे बढ़ाते हैं.

JNU मामला: प्रोफेसर अतुल जोहरी के खिलाफ अब तक 8 FIR दर्ज

प्रदर्शन के बीच चीफ पीआरओ सेंट्रल रेलवे ने कहा है कि बीच माटुंगा-दादर ट्रैक पर मुश्किलें आ रही हैं, जिसे रेलवे पुलिस हैंडल कर रही है. प्रदर्शन के कारण रेलवे स्टेशन के पास काफी दिक्कतें आ रही हैं. ट्रैक और स्टेशन के आसपास छात्रों का भारी हुजुम मौजूद है.

प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि पुलिस ने उनपर लाठीचार्ज किया है. प्रदर्शन के बाद सेंट्रल लाइन पर करीब 30 ट्रेनें रद्द हो गई हैं. रेलवे की ओर से हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है. (हेल्पलाइन नंबर – 23004000) प्रदर्शन के असर को देखते हुए कुर्ला इलाके में बेस्ट की अतिरिक्त बसें चलाई जाएंगी ताकि यात्रियों को परेशानी ना हो पाए. प्रदर्शन के बीच सेंट्रल रेलवे की ओर से भी ट्विटर पर ताजा रूट की जानकारियां दी जा रही हैं.

किरीट सोमैया ने की रेलमंत्री से बात

बीजेपी सांसद किरीट सोमैया ने इस मुद्दे पर ट्वीट किया कि मैंने इस मुद्दे पर पीयूष गोयल से बात की है. उन्होंने आंदोलन कार्यकर्ताओं से बात करने की मांग को स्वीकार किया है. मैं कार्यकर्ताओं से अपील करता हूं कि आंदोलन को रोकें और बात करें.दूसरी तरफ, NCP नेता सुप्रिया सुले ने ट्वीट कर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्किल इंडिया की बात करते हैं लेकिन रेल मंत्रालय इन छात्रों को नौकरी नहीं दे रहा है.

 

You may also like

ट्रिपल तलाक पर अध्यादेश लाएगी केंद्र सरकार, कैबिनेट ने दी मंजूरी

नई दिल्ली : देश में तीन तलाक के बढ़ते हुए