पंजाब: 21 कंपनियां करेंगी 1336 करोड़ का निवेश, एमओयू हुए साइन

- in पंजाब, राज्य

लुधियाना। पंजाब में 21 कंप‍नियां 1336 करोड़ रुपये का निवेश करेंगी। इसके लिए राज्‍य के उद्योगमंत्री सुंदर श्याम अरोड़ा ने यहां आयोजित एक समारोह के दौरान के कंपनियों के प्रतितिधियों के संग समझौता पत्र (एमओयू) पर हस्‍ताक्षर किए। इन से ज्यादातर कंपनियां पहले से पंजाब में काम कर रही हैं और वे राज्‍य में अपना निवेश बढ़ाएंगी। ये कंपनियां पंजाब में अपना विस्‍तार करेंगी।पंजाब: 21 कंपनियां करेंगी 1336 करोड़ का निवेश, एमओयू हुए साइन

उद्योग मंत्री सुंदर श्याम अरोड़ा यहां होटल पार्क प्लाजा में अायोजित समारोह में उद्यमियों के साथ विचार-विमर्श किया। समारोह में राज्‍य के खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री भारत भूषण आशू, सांसद रवनीत सिंह बिट्टू, विधायक संजय तलवार, कुलदीप सिंह वैद, सुरिंदर डावर, उद्योग विभाग के निदेशक डीपीएस खरबंदा, पीएसआइसी के एमडी रजत अग्रवाल भी उपस्थित थे। समारोह में राज्‍य की नई उद्योग नीति पर चर्चा हुई और उद्यमियों ने अपना पक्ष रखा। उद्योग मंत्री ने उद्यमियों के सवालों के जवाब भी दिए और उनकी शंकाआें का समाधान किया।

समारोह में उद्योगमंत्री ने कहा कि किसी को नौकरी देना एक पुण्य का काम है। इसके लिए पंजाब सरकार राज्‍य में ऐसा माहौल पैदा करेगी कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को रोजगार देने के लिए उद्योग सामने आएं। इससे बेरोजगारी समाप्त होने के साथ युवा नशों की दलदल से निकल पाएंगे।

उन्होंने कहा कि पिछली अकाली भाजपा सरकार ने 10 साल में जो नुक्सान किया है, उसे दुरुस्त करने में थोड़ा समय लगेगा, लेकिन जल्‍द ही राज्‍य में उद्योगों को पटरी पर ले आएंगे। उन्होंने कहा कि बिना किसी वजह से उद्योग विभाग के अधिकारी कारखानों में नहीं जाएंगे। जो अधिकारी बिना वजह उद्यमियों को तंग करता पाया गया, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

उन्‍होंने कहा कि बीमार उद्योगों को दाेबारा चालू करने और खड़ा करने के लिए सरकार वन टाइम सेटेलमेंट पॉलिसी लाएगी। हर तीन महीने में वह खुद लुधियाना में बैठक किया करेंगे। इसके अलावा, जिला उपायुक्‍त (डीसी) की अध्यक्षता में हर माह बैठक होगी। इन बैठकों में सभी विभाग समस्याओं का निवारण करेंगे।

लुधियाना से शिमला और लुधियाना से कुल्लू के लिए फ्लाइट शीघ्र आरंभ होगी। उन्होंने कहा कि श्रमिकों को कौशल विकास केंद्रों (स्किल डेव्लपमेंट सेंटर) में ट्रेंड करने के लिए इंडस्ट्री के सहयोग से काम किया जाएगा। उन्होंने बताया कि नई औद्योगिक निवेश नीति में 66 हजार करोड़ के 155 नए प्रोजैक्ट आए हैं। स्माल स्केल को पांच रुपये प्रति यूनिट बिजली न मिलने के स्थिति का जायजा लेकर इसका शीघ्र हल किया जाएगा।

पंजाब में नए निवेश की तैयारी

पंजाब में कई बड़ी कंपनियों के निवेश की योजना है। इसके लिए पेप्सी सहित कई नामी ब्रांड सहमति दे चुके हैं। इसके साथ लुधियाना के पास लाडोवाल में एक बड़े आटो यूनिट लगाने की तैयारी है। इसके लिए अंतिम चरण में प्रक्रिया है और शीघ्र ही इसपर काम आरंभ हो जाएगा। ऐसे में जहां यहां के छोटे उद्योगों को काम मिलेगा, वहीं कई रोजगार के अवसर पैदा होंगे। साइकिल वैली प्रोजेक्ट को तीन माह में आरंभ करने की योजना है। इसके लिए विदेशी निवेश के साथ साथ घरेलू कंपनियों को भी तरजीह दी जाएगी। 

खामियां निकलना गलत नहीं, लेकिन सुधार पर भी चर्चा : भारत भूषण आशु

पंजाब के खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री भारत भूषण आशु ने कहा कि खामियां निकलना गलत नहीं, लेकिन हम सुधार की भी चर्चा करें। इंडस्ट्री के लोग भी चर्चा को आगे नहीं आते हैं। हम सबको बात रखने का मौका देंगे। राज्‍य में उद्योगों को सबसे अधिक अच्छे माहौल की जरूरत थी। इस पर कैप्‍टन अमरिंदर सिंह सरकार काम कर रही है। हम गप्पे नहीं काम करेंगे। 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

यूपी: बहराइच में अब तक 70 से अधिक बच्चों की मौत, देखने पहुंचे डॉ. कफील खान अरेस्ट

उत्तर प्रदेश के बहराइच में संक्रमण के साथ