17 मई 2018 दिन गुरुवार का राशिफल और पंचांग, जानें किन राशि वालों की आज चमकेगी किस्मत

17 मई 2018 दिन गुरुवार का राशिफल और पंचांग

आप सभी का मंगल हो…

।।आज का पञ्चाङ्ग।।

17 मई दिन गुरुवार
ऋतु-ग्रीष्म
माह-अधिक ज्येष्ठ
पक्ष-शुक्ल
तिथि-द्वितीया
सूर्य-उत्तरायण
सूर्योदय-05:22
सूर्यास्त-06:38
राहूकाल(अशुभमुहूर्त)दोपहर
01:30 से 03:00 बजे तक
दिशाशूल-दक्षिण
शुभदिशा-उत्तर
अमृतमुहूर्त-दोपहर 01:59 से 03:29 तक

।।आज का राशिफल।।

मेष:-आज मेष राशि के जातकों का पूजा-पाठ में मन लगेगा। तीर्थदर्शन संभव है। जीवनसाथी से सहयोग मिलगा। वरिष्ठजन सहयोग करेंगे।यात्रा मंगल मय रहेगी।
राशिरुद्राक्ष:-तीन व चौदह मुखी

वृष:-आज व्यापर में आपको
जल्दबाजी से हानि संभव है। अपेक्षित कार्यों में विलंब होगा। क्रोध पर नियंत्रण रखें। कुसंगति से बचें।शैक्षिक कार्यों में प्रगति होगी।
राशिरुद्राक्ष:-तेरह, व दश मुखी

मिथुन:-आज व्यापार में उन्नति मिलेगी,अपने से
वरिष्ठजन सहयोग मिलेगा। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। चोट व रोग से बचें। धनार्जन होगा। विवाद न करें।
राशिरुद्राक्ष:-तेरह व ग्यारहमुखी।

कर्क:-आज व्यवसाय से मध्यम लाभ मिलेगा व
संपत्ति के कार्य भी आपको लाभ देंगे। प्रतिद्वंद्वी शांत रहेंगे। रुके कार्यों में गति आएगी। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। उन्नति के मार्ग प्रशस्त होंगे।
राशिरुद्राक्ष:-दो मुखी व गौरीशंकर ।

सिंह:-आज व्यापार व नौकरी में दिन सामान्य रहेगा।
रचनात्मक कार्य सफल रहेंगे। पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। पुराने मित्र व संबंधियों से मिलन होगा।यात्रा उत्तम रहेगी।
राशिरुद्राक्ष:-एकमुखी व बारह मुखी।

कन्या:-आज व्यापार से आपको सामान्य लाभ होगा।
दौड़धूप अधिक होगी। बड़े लाभ के अवसर टलेंगे। मंगलमय समाचार मिल सकेगा। काम में मन नहीं लगेगा।यात्रा मंगल मय होगी।
राशिरुद्राक्ष:-तेरह व ग्यारह मुखी।

तुला:-आज तुला राशि के जातकों की तीर्थयात्रा हो सकती है। वरिष्ठजन सहयोग मिलेगा। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। धनार्जन होगा।व्यापार सामान्य रहेगा।
राशिरुद्राक्ष:-तेरह व छ:मुखी ,दसमुखी

वृश्चिक:-आज नौकरी में मनोनुकूल वातावरण रहेगा,
अच्छे समाचार मिलने से प्रसन्नता में वृद्धि होगी। यात्रा मनोरंजक रहेगी। वस्तुएं संभालकर रखें। प्रमाद न करें।
राशिरुद्राक्ष:-तीनमुखी व चौदह मुखी

धनु:-आज व्यापार में उत्तम लाभ संभव है।भाग्योन्नति के प्रयास सफल रहेंगे। प्रतिष्ठितजनों का सहयोग प्राप्त होगा। यात्रा मनोरंजक लाभप्रद होगी।कृषि कार्यों में सफलता संभव है।
राशिरुद्राक्ष:-चौदह,एक, व सात मुखी

मकर:-आज आपको शिक्षक व प्रशासनिक कार्यों में सफलता मिल सकती है।
स्वास्थ्य कमजोर रहेगा। फालतू खर्च होगा। विवाद को बढ़ावा न दें। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें।
राशिरुद्राक्ष:-एक व चौदह मुखी

कुंभ:-आज व्यापार व नौकरी दोनों में आपको लाभ मिलेगा,मनोरंजक यात्रा होगी। डूबी हुई रकम प्राप्त हो सकती है, मन मे प्रसन्नता रहेगी। प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। प्रमाद न करें।
राशिरुद्राक्ष:- एक व चौदह मुखी।

मीन:-आज आपका स्वास्थ्य उत्तम होगा।सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।
योजना फलीभूत होगी। आय में वृद्धि होगी। वरिष्ठजन सहयोग को आगे आएंगे।मानसिक प्रसन्नता रहेगी।
राशिरुद्राक्ष:-एकमुखी,चौदह, व सात मुखी।

।।आज के दिन का विशेष महत्व।।

1 .आज ग्रीष्मऋतु अधिक ज्येष्ठमाह शुक्लपक्ष द्वितीया तिथि गुरुवार है।

।।प्रेरणा दाई चौपाई।।

चूड़ाकरन कीन्ह गुरु जाई। बिप्रन्ह पुनि दछिना बहु पाई।।

अर्थ:-गोस्वामी तुलसीदास जी वर्णन करते हैं कि गुरु वशिष्ठ जी ने सादर बुलाये गए और विप्रों के साथ आकर चूड़ाकरण (मुण्डन) करवाया उपरांत ब्राम्हणों को खूब दक्षिणा मिली। और सभी ब्राह्मणों ने सहृदय से आशीर्वाद दिया।

“अस्तु अपने घरों में शुभ अवसरों पर जैसे जन्मोत्सव, विवाह, यज्ञोपवीत, यदि ब्राम्हणों को दक्षिणा नही दी जाएगी तो वे अपने समय किसी के लिए क्यों व्यर्थ देंगें ?क्यों शास्त्रों पुराणों की कथा करेंगे? कैसे यज्ञ करवाएंगे?कैसे धर्म सुव्यवस्थित रहेगा? कैसे तुम्हारी भलाई की बात सोचेंगे!अगर हम आप उनको सांसारिक चिंता से दूर करेंगे तभी वे ब्राह्मण देवता हम सभी को परमार्थ की चिंता से मुक्त कर पाएंगे
वास्तव में पूर्व में खूब दक्षिणा देने की पद्धति थी।”

।।मलमाश विशेष।।

जहाँ तक रुद्राक्ष की बात है तो पाँच मुखी, एकमुखी , चौदहमुखी, व गौरीशंकर रुद्राक्ष सभी राशियों के जातक धारण कर सकते है।
पुरुषोत्तम माह में आप सभी के लिए 1से14 मुखी की रजत युक्त प्रतिष्ठित माला भी उपलब्ध है उसका उचित मूल्य दे कर आप सभी अपने शौभाग्य का वर्धन कर सकते है।

।।इति शुभम्।।
।।आचार्य स्वमी विवेकानन्द।।
।।ज्योतिर्विद व संगीतमय श्रीराम व श्रीमद्भागवत कथाव्यास।।
।।श्री अयोध्या धाम।।
संपर्क सूत्र-9044741252

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ऐसे भारत से भागा था विजय माल्या: CBI ने किया खुलासा..

  सूत्रों ने कहा कि पहले सर्कुलर में