सेल्समेन के साथ थे पत्नी के नाज़ायज़ सम्बन्ध, पति ने किया विरोध तो….

उत्तर प्रदेश के आगरा जिले के सिकंदरा के राधा नगर से तीन नवंबर को लापता हुए चेन कारीगर हरिओम सिंह का क़त्ल हो चुका है। इसका इल्जाम उसी की पत्नी बबली और उसके प्रेमी कमल पर लगा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। प्रेम संबंध का विरोध करने को लेकर हत्या किए जाने की बात सामने आई है।

Loading...

दोनों आरोपियों ने हत्या करने के बाद शव को संदूक में बंद करके जवाहर पुल से यमुना फेंक दिया और फरार हो गए। पुलिस ने शव को बरामद करने की कोशिश कर रही है। मूलरूप से गांव अगवार, एत्मादपुर के रहने वाले 36 वर्षीय हरिओम पुत्र राजवीर चेन फैक्टरी में आपरेटर था। उसकी शादी 17 वर्ष पूर्व बबली पुत्री निहाल सिंह से हुई थी। उसके चार बच्चे ज्योति, राशि, नमन और गुड्डो हैं।

फरवरी में बबली के नाज़ायज़ संबंध दहतोरा के रहने वाले कमल उर्फ करन से हो गए थे। करन वहीं पर पास में सेल्समेन की नौकरी करता था। वे आए दिन एक दूसरे से मिलते रहते, इसी बीच एक दिन इसकी भनक हरिओम को भी हो गई। हरिओम ने कई बार अपनी और हरिओम के संबंधों का विरोध किया। 20 दिन पहले ही हरिओम सिकंदरा के राधा नगर में परिवार सहित रहने आया था, जहां मौका पाकर उसकी पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति की हत्या कर दी।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *