सीएम शिवराज ने कहा- मेरे मजाक से कांग्रेस खुश थी, लेकिन बीजेपी…

- in मध्यप्रदेश, राज्य

भोपाल: कांग्रेस नेताओं और सोशल मीडिया पर इस बारे में ट्वीट आने के बाद एमपी के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए ट्वीट किया, ”कार्यक्रम में मेरे लिए आरक्षित रखी गए कुर्सी को ले कर थोड़ा सा मज़ाक़ क्या कर लिया… कुछ मित्र अत्यंत आनंदित हो गए! चलो, मेरा आनंद व्याख्यान में जाना सफल हो गया… ” इसके बाद सोशल मीडिया पर अटकलों का दौर चलने लगा कि चौहान के स्थान पर बीजेपी द्वारा किसी और लाया जा रहा है.सीएम शिवराज ने कहा- मेरे मजाक से कांग्रेस खुश थी, लेकिन बीजेपी...

सीएम शिवराजसिंह चौहान ने शुक्रवार को भोपाल में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, ”कार्यक्रम में आरक्षित कुर्सी के बारे में मेरे एक मजाक करने से कांग्रेस बहुत खुश थी. अब मैं यह कहना चाहूंगा कि अगले 50 सालों में कांग्रेस द्वारा इस बीजेपी सरकार को हटाया नहीं जा सकता है”.

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा खाली कुर्सी को लेकर किए गए मजाक पर कांग्रेस ने गुरुवार को सोशल मीडिया पर चौहान की खिंचाई की थी. मध्यप्रदेश सरकार के आनंद विभाग द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में ‘माननीय मुख्यमंत्री” की पट्टी लिखी खाली कुर्सी की तरफ इशारा करते हुए चौहान ने हंसी के हल्के अंदाज में कहा था, ”दुनिया में कुछ भी परमानेंट नहीं है, मैं जा रहा हूं, लेकिन मुख्यमंत्री की कुर्सी है. इस पर कोई भी बैठ सकता है.” चौहान इस कार्यक्रम में विलंब से पहुंचे थे और उपस्थित लोगों से प्रदेश के अलीराजपुर और झाबुआ जिले के कार्यक्रमों में पहुंचने के लिये कार्यक्रम से जल्दी जाने की बात कर रहे थे.

कांग्रेस के नेताओं ने तुरंत मौका लपकते हुए उनके बयान पर ट्वीट करने शुरू कर दिए. प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने टीवी चैनल पर चलाए जा रहे चौहान के बयान को स्क्रीन के साथ ट्वीट किया, ”क्या मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को हटाया जा रहा है या वे यह सच स्वीकार कर चुके हैं कि अबकी बार – कांग्रेस सरकार.”

प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव ने ट्वीट किया, ”अपने कर्मों से अब मुख्यमंत्री जी खुद एहसास करने लगे है कि अब मैं नही कोई और मुख्यमंत्री होगा…. यह सच्चाई स्वीकार करने में इतना समय क्यों लगा मुख्यमंत्री जी….” अटकलों की बीच बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने स्थिति स्पष्ट करते हुए ट्वीट किया, ”मध्यप्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन को लेकर चल रही सभी खबरें पूर्णतः असत्य हैं, और अफवाह मात्र हैं… प्रदेश में आगामी चुनाव, माननीय शिवराज सिंह चौहान जी के नेतृत्व में ही लड़े जाएंगे.”

प्रदेश में आम लोगों की जीवन में सकारात्मकता और आनंद लाने के लिए प्रदेश में साल 2016 में आनंद विभाग का गठन किया गया था.विभाग ने प्रशासन अकादमी में अध्यात्मिक गुरु स्वामी सुखबोधानंद जी का व्याख्यान आयोजित किया था. इसमें मुख्यमंत्री चौहान शामिल हुए थे. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

BJP धूमधाम से मनाएगी राजमाता सिंधिया का 100वां जन्मदिवस

केंद्र सरकार विजया राजे सिंधिया के 100वें जन्मदिवस