जानिए कैसे एक नेवले ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारत को दिलाई थी 2 रन से रोमांचित जीत

- in खेल, ज़रा-हटके

मैच जीतने के लिए साउथ अफ्रीका को बेहद आसान टारगेट मिला था। एसी हडसन (62) और ब्रायन मैक्कमिलन (48) की शानदार पारी के दम पर साउथ अफ्रीका जीत के बेहद करीब पहुंच चुका था लेकिन…

क्रिकेट मैच के दौरान मैदान पर कई ऐसी घटनाएं होती हैं, जिसे जानकर आप चौंक जाते हैं। कुछ वाकये आपको बेहद मजाकिया लगेंगे वहीं कुछ हैरानी में डाल देंगे। एक ऐसा ही रोचक किस्सा हम आपको बताने जा रहे हैं जो जुड़ा है विश्व के महानतम क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के साथ। ये वाकया खुद सचिन ने अपने फैंस को सुनाया था।

दरअसल हुआ यूं कि कोलकाता के ईडन गार्डन में 24 नवंबर 1993 को भारत-साउथ अफ्रीका के बीच रोमांचक मैच खेला गया था। भारत पहले बल्लेबाजी करते हुए कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन (90) और पीके आमरे (48) के दम पर निर्धारित 50 ओवर में 9 विकेट खोकर महज 195 रन ही बना सका था।

मैच जीतने के लिए साउथ अफ्रीका को बेहद आसान टारगेट मिला था। एसी हडसन (62) और ब्रायन मैक्कमिलन (48) की शानदार पारी के दम पर साउथ अफ्रीका जीत के बेहद करीब पहुंच चुका था लेकिन मैच का नतीजा बेहद रोमांचक रहा और मेहमान टीम महज 193 रन पर सिमट गई। भारत ने इस मैच को महज 2 रन से जिताया।

बकौल सचिन ‘मुझे नहीं पता कि आपमें से कितनों ने इस बात पर गौर किया होगा कि मैच के दूसरे हाफ में मैदान पर बार-बार एक नेवला आ रहा था। जब-जब वो आता, हमारी टीम को विकेट मिलता। उसके बाद रन बनने लगते और फिर वह नेवला आता तो हमें विकेट मिलता।’

सचिन बताते हैं कि उस मैच में मैं बल्लेबाजी में कुछ खास नहीं कर सका था और कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने मुझे लास्ट ओवर फेंकने को कहा। मैं उस नेवले के आने का इंतजार करने लगा। तीन गेंदें डॉट जा चुकी थीं। तभी वो नेवला दिख गया, जिसके बाद एलेन डोनाल्ड रन आउट हो गए और भारत इस मैच को जीतकर फाइनल में प्रवेश कर गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कराटे खिलाड़ियों ने उत्तीर्ण की ब्लैक बेल्ट परीक्षा

लखनऊ। जापान सोतो कान कराटे डू कनिंजुकु ऑर्गनाइजेशन के