मोदी ने किसानों के हित में किया फैसला; पुराने नोटों से खरीद सकेंगे खाद-बीज

जी हाँ!! मोदी ने किसानों के हित में किया फैसला; पुराने नोटों से खरीद सकेंगे खाद-बीज… नोटबंदी से परेशान किसानों को बड़ी राहत देते हुए सरकार ने कहा है कि किसान पुराने नोटों से खाद और बीज खरीद सकेंगे। यह पुराने नोट केंद्र और राज्‍य सरकार की दुकानों पर चल पाएंगे। सरकार ने यह फैसला फसलों की बुुवाई में हो रही देरी के मद्देनजर किया है।

मोदी ने किसानों के हित में किया फैसला; पुराने नोटों से खरीद सकेंगे खाद-बीज

यह भी पढ़ें:- बड़ी खबर: 22 नवम्बर से बंद हो सकते हैं 2000 के नोट; नहीं चलेगी मोदी की रणनीति

दरअसल सरकार के नोटबंदी के फैसले के बाद से ही किसान नोटों की मार के चलते नई फसलों की बुवाई नहीं कर पा रहे हैं। इसकी वजह से जहां उन्‍हें नुकसान हो रहा है वहीं ग्रामीण अर्थव्‍यवस्‍था की कमर भी टूट रही है। सरकार के इस फैसले के बाद किसान अब खाद और बीज खरीद कर नई फसलों की बुवाई कर सकेंगे।

सरकार की ओर से नोटबंदी के फैसले के बाद बैंकों में भारी मात्रा में नकदी जमा हुई है। देश के केंद्रीय बैंक भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक 10 से 18 नवंबर के बीच बैंकों में कुल 5.12 लाख करोड़ रुपए की नकदी जमा हुई है। वहीं एक लाख करोड़ की नकदी बैंकों से इस अवधि में निकाली गई है।

यह भी पढ़ें:- पाकिस्तान में चल रही ISIS की खुली भर्ती; भारत के लिए बड़ा खतरा

नोटबंदी से परेशान किसानों को बड़ी राहत देते हुए सरकार ने कहा है कि किसान पुराने नोटों से खाद और बीज खरीद सकेंगे। यह पुराने नोट केंद्र और राज्‍य सरकार की दुकानों पर चल पाएंगे। सरकार ने यह फैसला फसलों की बुुवाई में हो रही देरी के मद्देनजर किया है।

दरअसल सरकार के नोटबंदी के फैसले के बाद से ही किसान नोटों की मार के चलते नई फसलों की बुवाई नहीं कर पा रहे हैं। इसकी वजह से जहां उन्‍हें नुकसान हो रहा है वहीं ग्रामीण अर्थव्‍यवस्‍था की कमर भी टूट रही है। सरकार के इस फैसले के बाद किसान अब खाद और बीज खरीद कर नई फसलों की बुवाई कर सकेंगे।

यह भी पढ़ें:- 500 और १००० के नोटबंदी में एक और बुरी खबर, बैंकों ने बंद की सेवाएं

सरकार की ओर से नोटबंदी के फैसले के बाद बैंकों में भारी मात्रा में नकदी जमा हुई है। देश के केंद्रीय बैंक भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक 10 से 18 नवंबर के बीच बैंकों में कुल 5.12 लाख करोड़ रुपए की नकदी जमा हुई है। वहीं एक लाख करोड़ की नकदी बैंकों से इस अवधि में निकाली गई है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button