भगवान जगन्नाथ की 141वीं रथयात्रा में शामिल हुए अमित शाह 

- in Mainslide, राष्ट्रीय

अहमदाबाद के बाद अब पुरी में भी भगवान जगन्नाथ की 141वीं रथयात्रा धूमधाम से निकाली जा रही है। जबकि दिल्ली में दोपहर में यह यात्रा आरंभ होगी। इस बार यात्रा में करीब 15 लाख लोगों के शामिल होने की उम्मीद है। यात्रा में पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आरती में हिस्सा लिया। उनके साथ गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी और उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल भी रहे। यात्रा में किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो इसको लेकर कड़े इंतजाम किए गए हैं।भगवान जगन्नाथ की 141वीं रथयात्रा में शामिल हुए अमित शाह मुख्यमंत्री विजय रुपाणी और उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने रथ को खींच कर यात्रा आरंभ की। इस दौरान दोनों नेताओं ने रथ के आगे झाड़ू भी लगाई। इस यात्रा में शामिल होने के लिए देश के कई हिस्सों से लोग शामिल होने पहुंचे हैं। यात्रा में बड़ी मात्रा में साधु संतों ने भी हिस्सा लिया है। 

अहमदाबाद में रथयात्रा भगवान जगन्नाथ के मुख्य मंदिर से सरसपुर के रणछोड़दास मंदिर तक जाएगी। भगवान जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा के रथ यहां करीब दो घंटे रुकेंगे। सरसपुर के रणछोड़दास मंदिर को भगवान जगन्नाथ का ननिहाल कहा जाता है। अहमदाबाद में मंत्रोच्चार के साथ मंगला आरती के पहले भगवान जगन्नाथ का भव्य स्नान और अभिषेक किया गया।  मान्यता के मुताबिक भगवान जगन्नाथ स्वस्थ होने के बाद रथ के जरिए शहर में निकलते हैं।

इस यात्रा के लिए बीमा भी लिया गया है। अगर इस दौरान किसी प्रकार की हानि होती है तो उसके लिए 1.5  करोड़ रुपये का बीमा लिया गया है। रथ यात्रा के दौरान सबसे आगे 18 हाथी, 101 ट्रक, करतब दिखाने के लिए 30 अखाड़े और कई बैंड रहेंगे। यात्रा का समापन आज शाम करीब 7 बजे होगा। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर देश को जगन्नाथ रथयात्रा की शुभकामनाएं दी हैं। पीएम मोदी ने कहा है कि भगवान जगन्नाथ के आशीर्वाद से देश नई ऊंचाइयों पर पहुंचे।

देखे विडियो:-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ऐसे तांत्रिक बाबा महिलाओं को फंसाते हैं अपने जाल में…

मध्यप्रदेश के इंदौर का मामला है जहां एक तांत्रिक पकड़ा