बड़ी खबर: यूपी में एक झटके में बेघर होगे हजारों लोग…

यूपी के कानपुर में हाईकोर्ट की सख्ती के कारण जिला प्रशासन ने एलनगंज स्थित टेफ्को कालोनी खाली कराने के लिए रणनीति बना ली है। बवालियों को चिह्नित करने के लिए कालोनी में सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाएंगे। बाहरी जिलों से फोर्स बुलाया जा रहा है। अचानक किसी भी दिन प्रशासन की टीमें कालोनी खाली कराएंगी। बवाल की स्थिति को देखते हुए ड्रोन कैमरे से पूरी कार्रवाई पर नजर रखी जाएगी। बड़ी खबर: यूपी में एक झटके में बेघर होगे हजारों लोग...

हाईकोर्ट ने टेफ्को कालोनी खाली कराने का आदेश दे रखा है। कालोनी के 49 ब्लाकों में 640 आवास हैं। इनमें करीब साढ़े तीन हजार लोग रहते हैं। भारी विरोध की आशंका के कारण पिछले कई दिनों से टेफ्को कालोनी खाली कराने के नाम पर खानापूरी की जा रही है। अभी तक जिला प्रशासन करीब सौ दुकानें ही खाली करा चुका है। जिला प्रशासन ने कालोनी में रहने वाले लोगों को कांशीराम योजना के तहत मकान देने को कहा लेकिन लोगों ने इनकार कर दिया। 

सिटी मजिस्ट्रेट वैभव मिश्र ने बताया कि कालोनी के सभी निकास द्वार और संवेदनशील स्थान चिह्नित कर लिए गए हैं। इन स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगवाए जा रहे हैं। कालोनी खाली कराते वक्त किसी ने कोई उपद्रव किया तो वह इन कैमरों से चिह्नित कर लिए जाएंगे। कालोनी में आने वाले बाहरी लोगों को भी चिह्नित किया जा रहा है। कुछ लोग कालोनी के लोगों को भड़का रहे हैं। उनपर रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी। हाईकोर्ट के आदेश की जानकारी देते हुए कालोनी में रहने वाले लोगों को पहले ही नोटिस दिए जा चुके हैं। जिला प्रशासन को हाईकोर्ट के आदेश का अनुपालन कराना है। इसलिए बाहरी जिलों से फोर्स बुलाया जा रहा है। पीएसी भी तैनात रहेगी।

सोशल मीडिया पर ये मैसेज हुआ वायरल
कानपुर में एलनगंज कालोनी है। आर्य नगर के निकट। यहां, 120 वर्ष से भी अधिक समय से लोग रह रहे हैं। अंग्रेजों के समय यह बनी थी, जिसमे 999 क्वाटर बने हुए हैं। करीब 15000 लोग रह रहे हैं। सभी के घरों में नोटिस चस्पा कर दिया गया है। गुरुवार को सुबह 10 बजे से इनके मकान खाली कराये जाएंगे। ऐसे ही कानपुर में विजय नगर, ग्वालटोली काफी कालोनियां भी खाली कराने के लिये नोटिस चस्पा की गई है। करीब 10 लाख लोग प्रभावित होंगे। पूरे प्रदेश में अराजकता फ़ैल जायेगी। विपक्षी सभी मौके की ताक में हैं। अभी तक कैसे liu की रिपोर्ट नहीं पहुंची, ये बड़ा सवाल है। पूरे कानपूर में उबाल है। कुछ करियेगा वरना हालात बेकाबू हो सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

लोअर पीसीएस-2015 के चयनितों को चार माह बाद भी नियुक्ति का इंतजार – राघवेन्द्र प्रताप सिंह

लखनऊ। एक ओर जहाँ सूबे की योगी आदित्यनाथ