बॉल टेम्परिंग में विवाद में श्रीलंकाई बोर्ड ने किया बचाव, कहा चंडीमल ने कुछ गलत नहीं किया

- in खेल

 वेस्टइंडीज के खिलाफ जारी टेस्ट सीरीज में बॉल टेम्परिग मामले में फंसे श्रीलंका टीम के कप्तान दिनेश चंडीमल पर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) द्वारा लगाए गए आरोप के बाद अब श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड (एसएलसी) अपने खिलाड़ियों के बचाव में उतर आया है. एक क्रिकेट वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार, एसएलसी ने एक मीडिया रिलीज के जरिए यह कहा है कि वह अपनी टीम के किसी भी खिलाड़ी के खिलाफ लगे असंगत आरोपों से उसका बचाव करेगा.बॉल टेम्परिंग में विवाद में श्रीलंकाई बोर्ड ने किया बचाव, कहा चंडीमल ने कुछ गलत नहीं किया

श्रीलंका बोर्ड ने अपनी प्रेस रिलीज में कहा, “टीम प्रबंधन ने हमें यह बताया है कि श्रीलंका टीम के खिलाड़ियों ने कुछ भी गलत नहीं किया है. ऐसे में अगर किसी भी प्रकार का गलत आरोप लगाया जाता है, तो बोर्ड अपनी टीम के किसी भी खिलाड़ी के बचाव में जरूरी कदम उठाएगा.”

उल्लेखनीय है कि आईसीसी ने रविवार को ट्वीट के जरिए श्रीलंका टीम के कप्तान चंडीमल पर आसीसी की आचार संहिता के स्तर 2.2.9 के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए उन्हें गेंद से छेड़छाड़ का दोषी माना है. ऐसे में आईसीसी के मैच रैफरी जवागल श्रीनाथ ने दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन वेस्टइंडीज को पांच रन दिए थे. इससे गुस्साई श्रीलंका टीम ने विरोध प्रदर्शन करते मैदान पर उतरने से साफ इनकार कर दिया. ऐसे में मैच ढाई घंटे की देरी से शुरू हुआ.

आईसीसी ने चंडीमल पर आईसीसी की आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप लगाया है और उसका कहना है कि आईसीसी ने इस आरोप के प्रभाव को अभी पूरी तरह से नहीं बताया है. गौरतलब है कि पिछले दो साल में दूसरी बार हो रहा है, जब श्रीलंका को गेंद के साथ छेड़छाड़ के मामले में विवादों का सामना करना पड़ा है. इससे पहले टीम को पिछले साल दासुन शनाका के कारण इस प्रकार के मामले से जूझना पड़ा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

LIVE Asia Cup: पाकिस्तान ने टॉस जीत चुनी बल्लेबाजी

पाकिस्तान ने बुधवार को एशिया कप में भारत