पानीपत में बोले सीएम खट्टर, कहा- देश की तरफ कोई अंगुली उठाएगा तो अंगुली काटकर फेंक देंगे

पानीपत। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि भारत हमारी माता है। मां के टुकड़े बेटे के सामने नहीं हो सकते। अगर ऐसा होता है तो वह बेटा सपूत नहीं कपूत है। देश की सुरक्षा की तरफ जो कोई अंगुली उठाने का साहस करेगा उसकी अंगुली काट कर फेंक देंगे। सीएम मनोहर लाल महम के गांव अकबरपुर और इसराना अनाज मंडी में आयोजित विजय संकल्प रैली को संबोधित कर रहे थे।पानीपत में बोले सीएम खट्टर, कहा- देश की तरफ कोई अंगुली उठाएगा तो अंगुली काटकर फेंक देंगे

Loading...

उन्होंने कहा कि मोदी ने गरीबों का जीवन बदला। देशवासियों में रक्षा और सुरक्षा की भावना भरी। चुनौतियों से निपटने के लिए सेना को सर्जिकल स्ट्राइक की छूट दी। कांग्रेस 124-ए देशद्रोही कानून को खत्म करने की बात कह रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी देश के टुकड़े करना चाहती है।

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपलब्धियां गिनाकर वोट मांगे और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को घेरा। सीएम ने कहा कि 2004 के चुनाव में हुड्डा ने 90 तोले सोना नामांकन में दिखाया। पांच वर्ष बाद ये बढ़कर पांच किलो हो गया। पांच वर्ष में हुड्डा बाकी चार किग्रा सोना कहां से लाए। महागठबंधन को ठगबंधन बताकर मनोहर ने कहा कि 12 मई को वोट देकर आप सब देश के विकास में मोदी का हाथ मजबूत करें।

उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा से कोई समझौता न करें और आगामी 12 मई को कांग्रेस पर वोट की चोट से प्रहार करें। अगर ऐसा होगा तो 23 मई को कांग्रेस समझो गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि लोकसभा का चुनाव सामने है, भारत में चुनाव एक मेला होता है, जो हर पांच साल बाद लोकसभा व विधानसभा के रूप में आता है। महम की रैली में कृषि मंत्री ओपी धनखड़, सहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर, जबकि इसराना की रैली में परिवहन मंत्री कृष्णलाल पंवार, विधायक रोहिता रेवड़ी, महीपाल ढांडा, मेयर अवनीत कौर और जिला अध्यक्ष प्रमोद विज मौजूद रहे।

कांग्रेसियों का गणित भी कमजोर
सीएम मनोहर ने कहा कि कांग्रेसी घोषणापत्र में कहते हैं कि महीने के 12 हजार देंगे, फिर कहते हैं 72 हजार देंगे, इनका गणित समझ नहीं आता। पहले तो इन्हें यह ही पता नहीं कि साल में छह नहीं 12 महीने होते हैं। अब प्रश्न ये उठता है कि तीन लाख 60 हजार करोड़ रुपये आखिर कहां से आएंगे।

नहीं दिखे पूर्व सांसद अरविंद शर्मा
वहीं, इसराना रैली में पूर्व सांसद अरविंद शर्मा नहीं आए। शर्मा करनाल लोकसभा सीट से टिकट के दावेदार थे। माना जा रहा है कि टिकट नहीं मिलने के कारण वह रैली में नहीं पहुंचे।

15 साल का हिसाब मांगेगी जनता
राहुल गांधी ने केरल की एक सुरक्षित सीट वायनाड को मजबूती से पकड़ा है। पहले अमेठी की जनता 15 साल का हिसाब मांगेगी। वायनाड वालों को जब पता चलेगा तो वो भी चुप नहीं बैठेंगे। वहां से धक्का मार कर बाहर कर देंगे।

पहले मना किया अब बुला रहे
दिल्ली के सीएम रोज कुछ न कुछ बयान देते रहते हैं। पहले कहा कि किसी से गठबंधन नहीं करेंगे। अब दलों को बुला रहे हैं। कांग्रेस ने साफ मना कर दिया है।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com