घर में घुसकर करते थे छेड़छाड़, पीड़िता ने योगी को किया ट्वीट, पुलिस के छूटे पसीने

उत्तर प्रदेश में नई सरकार का असर अफसरों में दिखने लगा है। कल्याणपुर में हार्डवेयर कारोबारी के घर में घुसकर पत्नी, उनकी दो बेटियों से छेड़छाड़, मारपीट की घटना को हल्के में निपटाने में जुटी पुलिस पीड़ित पक्ष के सीएम को ट्वीट के बाद हरकत में आ गए।
घर में घुसकर करते थे छेड़छाड़, पीड़िता ने योगी को किया ट्वीट, पुलिस के छूटे पसीने
सीएम योगी आदित्यनाथ के दफ्तर से आदेश आने के बाद कार्यवाहक एसएसपी कई पुलिस अफसरों केे साथ खुद पीड़ित के घर पहुंचे और मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर एफआईआर तरमीम करने के निर्देश दिए। यही नहीं आननफानन आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी भी शुरू हो गई। 
 
अंबेडकरपुरम आवास विकास निवासी हार्डवेयर कारोबारी के मुताबिक रक्षा प्रतिष्ठान कर्मी पड़ोसी सुजीत गौतम दबंग किस्म का है। दो साल से किसी न किसी बात पर विवाद हो रहा था। हर बार पुलिस कोई कार्रवाई नहीं करती थी। 13 मार्च को होली के दिन सुजीत बेटे रोहन व चार साथियों के साथ शराब के नशे में उनके घर में घुस आया। सभी बेटियों से छेड़छाड़ करने लगे।

विरोध करने पर बेटियों और पत्नी को पीटा

विरोध करने पर बेटियों और पत्नी को पीटा। पिटाई से तीनों के चेहरे और पेट में चोटें आईं। तीनों का पांच दिन तक हैलट में इलाज चला। कारोबारी ने बताया कि पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मारपीट, गाली-गलौज और धमकी की एनसीआर (प्राथमिकी) दर्ज की। विवेचक ने भी टालू रवैया अपनाया। इधर दबंग उन्हें लगातार जान की धमकी दे रहे थे।

मंगलवार दोपहर दो बजे एक बेटी ने सीएम योगी आदित्यनाथ को ट्वीट कर न्याय की गुहार लगाई। महज एक घंटे बाद दोपहर करीब तीन बजे कार्यवाहक एसएसपी सचिंद्र पटेल, सीओ कर्नलगंज विशाल पांडेय, सीओ कल्याणपुर संजीव दीक्षित, इंस्पेक्टर देवेंद्र विक्रम सिंह फोर्स के साथ पीड़ित के घर पहुंचे। परिवार से पूरी घटना की जानकारी लेकर थाने और चौकी प्रभारी से पूछताछ की। पीड़ित परिवार को न्याय और सुरक्षा का भरोसा दिया।

आरोपियों ने शादी तोड़ने की दी धमकी

16 अक्टूबर को भी दी थी तहरीर
हार्डवेयर कारोबारी ने बताया कि उनकी पत्नी ने 16 अक्टूबर को कल्याणपुर थाने में दबंगों की शिकायत की थी। थानेदार ने शिकायती पत्र चौकी प्रभारी को जांच के लिए सौंप दिया था। इसके बाद क्या हुआ उन्हें नहीं मालूम। अगर पुुलिस उस वक्त आरोपियों पर कार्रवाई करती तो यह घटना नहीं होती।

शादी के लिए मांगी सुरक्षा
कारोबारी ने बताया कि उनकी एक बेटी की 25 अप्रैल को शादी है। आरोपी शादी में व्यवधान डालने की धमकी दे रहे हैं। बेटी ने सीएम को ट्वीट में शादी के दिन अपनी और परिवार की सुरक्षा की मांग भी की है। इंस्पेक्टर का कहना है कि पीड़िता के शादी के दिन परिवार को फोर्स मुहैया कराई जाएगी।

1090 में शिकायत की थी
पीड़िता का कहना है कि बेटी ने महिला सुरक्षा नंबर 1090 पर भी शिकायत की। थाने में तहरीर दी, लेकिन पुलिस कर्मियों ने उसे फाड़ कर फेंक दिया। एक सिपाही ने बोलकर तहरीर लिखाई, जिस पर एनसीआर दर्ज की गई। 15 मार्च को वह एसएसपी से मिले और न्याय की गुहार लगाई, तब भी पुलिस एक्शन में नहीं आई।

 
 
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button