Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > खेलकूद एवं अनुशासन के माहौल में बच्चे बनेंगे चरित्रवान -गैरी अराथून

खेलकूद एवं अनुशासन के माहौल में बच्चे बनेंगे चरित्रवान -गैरी अराथून

सीएमएस की मेजबानी में यूपी एवं उत्तराखंड के प्रधानाचार्यों की मीटिंग

लखनऊ : सिटी मोन्टेसरी स्कूल, कानपुर रोड ऑडिटोरियम में उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड के आई.एस.सी. एवं आई.सी.एस.ई. विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि एवं काउन्सिल फॉर द इण्डियन स्कूल सार्टिफिकेट एक्जामिनेशन (सी.आई.एस.सी.ई.) के चीफ एक्जीक्यूटिव एवं सेक्रेटरी गैरी अराथून ने कहा कि एकता एवं अनुशासन के माहौल में बच्चे चरित्रवान बनेंगे। उन्होंने यूपी एवं उत्तराखंड के विभिन्न विद्यालयों से प्रधारे प्रधानाचार्यों का आहवान किया कि वे अपने विद्यालयों में खेलों से सम्बन्धित गतिविधियों को बढ़ावा देने का भरपूर प्रयास करें। इससे न सिर्फ बच्चे स्वस्थ रहेंगे अपितु उनमें एकता, सहयोग, अनुशासन आदि विभिन्न गुणों का विकास होने के साथ ही चुनौतियों से जूझने की क्षमता भी बढ़ेगी। इस अवसर पर ऐसोसिएशन ऑफ स्कूल्स फॉर द इण्डियन स्कूल सार्टिफिकेट (ए.एस.आई.एस.सी.) के सेक्रेटरी सुधीर जोशी, सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी, सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन, सी.एम.एस. कानपुर रोड कैम्पस की प्रधानाचार्या डा. विनीता कामरान समेत कई गणमान्य हस्तियाँ उपस्थित थी।

विदित हो कि सी.आई.एस.सी.ई. के तत्वावधान में ‘काउन्सिल नेशनल स्पोर्ट्स एण्ड गेम्स’ विषयक तीन दिवसीय स्पेशल मीटिंग का आयोजन सी.एम.एस. की मेजबानी में किया जा रहा है, जिसमें यूपी एवं उत्तराखंड के आई.एस.सी. एवं आई.सी.एस.ई. स्कूलों के प्रधानाचार्य स्कूलों में खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने पर विचार विमर्श कर रहे हैं। मीटिंग के दूसरे दिन आज विभिन्न विद्यालयों के प्रधानाचार्यों ने खेलों के प्रति छात्रों के रूझान को विकसित करने के उपाय सुझाये, साथ ही खेल व पढ़ाई में सामन्जस्य स्थापित करने के साथ ही माता-पिता व अभिभावकों को भी इस प्रक्रिया में शामिल करने का आह्वान किया।

इस अवसर पर अपने सम्बोधन में सी.एम.एस. संस्थापक डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि छात्रों के बौद्धिक विकास के लिए शारीरिक विकास का होना अति आवश्यक है और यह खेलों द्वारा ही सम्भव है। खेल का मैदान ऐसा है जहां अनेक गुण पैदा होते हैं एवं चरित्र का निर्माण होता है। उन्होंने कहा कि विद्यालयों में खेलों को बढ़ावा देने से विश्व एकता व विश्व शान्ति का मार्ग भी प्रशस्त होगा। मीटिंग में उपस्थित प्रधानाचार्यों का हार्दिक स्वागत करते हुए सी.एम.एस. कानपुर रोड कैम्पस की प्रधानाचार्या डा. विनीता कामरान ने कहा कि आज के युग में बच्चों को ‘गुड’ और ‘स्मार्ट’ बनाना जरूरी है। पढ़ाई और खेलकूद दोनो ही व्यक्ति के पूर्ण विकास के लिए आवश्यक है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि प्रधानाचार्यों की यह मीटिंग छात्रों को क्वालिटी एजूकेशन प्रदान करने की दिशा में मील का पत्थर साबित होगी।

Loading...

Check Also

तहसीलदार पर अभद्रता व मारपीट करने के आरोप में पूर्व विधायक दिलीप वर्मा हुए गिरफ्तार

तहसीलदार पर अभद्रता व मारपीट करने के आरोप में पूर्व विधायक दिलीप वर्मा हुए गिरफ्तार

तहसीलदार के कमरे में घुसकर पिटाई करने के मामले में विधायक पति तथा पूर्व विधायक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com