वायरल सच: योगी आदित्यनाथ के SEX SCANDLE का खुलसा, देखे विडियो

19 मार्च 2017. यूपी को नया मुख्यमंत्री मिला. योगी आदित्यनाथ. आख़िरी मोमेंट तक नहीं क्लियर था कि यूपी का सीएम कौन बनेगा. लेकिन 18 मार्च की दोपहर से जो बातें उठनी शुरू हुईं तो मालूम चला कि मामले पर मुहर लग चुकी है. और बड़े लोगों ने फ़ैसला सुना दिया है. 19 मार्च को आदित्यनाथ ने सीएम पद की शपथ ली.

क्या है योगी आदित्यनाथ की बताई जा रही वायरल तस्वीरों का सच?

अभी अभी: किसानों के लिए सीएम योगी का बड़ा कदम, 15 अप्रैल तक भर दो सबकी झोली वरना…

जबसे आदित्यनाथ मुख्मंत्री बने हैं, सोशल मीडिया में जिनके पास करने को कुछ नहीं बचा था या उनका मूड नहीं था, उन्हें मसाला मिल गया है. पका-पकाया. अब बस उन्हें अपने हिसाब से सब्ज़ियां डालनी हैं. व्यंजन चहुंओर परोसे जा रहे हैं. इसी क्रम में सोशल मीडिया की सबसे बड़ी समस्या भी शुरू हो गई है. अफवाहें. योगी आदित्यनाथ कहीं मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव के भाई बताए जा रहे हैं, तो कहीं दीपिका पादुकोण के साथ खड़े नज़र आ रहे हैं. असल में विन डीज़ल और योगी आदित्यनाथ की शक्लों में काफी समानताएं नज़र आती हैं. इसके चलते लोगों ने फ़ोटोशॉप करते हुए विन डीज़ल के शरीर पर आदित्यनाथ का चेहरा लगाकर एक हल्का मज़ाक करने की कोशिश की.

इतना तक तो फिर भी काबिल-ए-बर्दाश्त था. लेकिन एक फेसबुक प्रोफाइल ने तो कमाल कर दिया. कुछ तस्वीरें लीं, उनका कोलाज बनाया और कह दिया कि उसमें योगी आदित्यनाथ सेक्स करते हुए दिख रहे हैं. तस्वीरों में एक आदमी, भगवा रंग की लुंगी पहने एक गुलाबी कपड़ों में मौजूद लड़की के साथ इंटिमेट पोजीशन में है. ये तस्वीरें इतनी छोटी हैं और ऐसी हैं कि आदमी का चेहरा साफ़ नहीं दिख पाता, शायद इन्हें जान-बूझकर ऐसे ही लिया गया हो कि चेहरा पहचान में न आए. बस उस आदमी के सर पर बाल ठीक वैसे ही हैं जैसे योगी आदित्यनाथ के.

सेक्स को बनाना चाहते है मजेदार तो पार्टनर से करें गंदी बात!

बीजेपी युवा मोर्चा ने प्रभा बेलावांगला के ख़िलाफ़ बेंगलुरु में साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन में उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ की मॉर्फ की हुई तस्वीरें डालने की वजह से कम्प्लेंट करवाई है.

एफ़आईआर की कॉपी

कहां से आईं ये झूठी तस्वीरें?

अब मामला ये बनता है कि अगर ये तस्वीरें योगी आदित्यनाथ की नहीं हैं, तो फिर ये हैं कहां की या किसकी? दरअसल यूट्यूब पर एक सस्ते पोर्न का जाल फैला हुआ है. जहां वीडियोज़ उस हद को क्रॉस नहीं करते कि उन्हें पोर्न का दर्जा दे दिया जाए लेकिन हां, उन्हें एक आम वीडियो भी नहीं कहा जा सकता. ये वीडियो अश्लील भाषा, अश्लील मूव्स, अश्लील बोल और अश्लील भावों से भरे हुए होते हैं और साथ ही इनका पूरा निचोड़ भी काफी अश्लील ही निकलता है. फिर भी यूट्यूब इन्हें हटा नहीं सकता. क्योंकि ये कहीं से भी यूट्यूब की पॉलिसी को काटते नहीं हैं.

बड़ी खबर: अगर आप लेना चाहते है नया मोबाइल नंबर तो जरुर पढ़े ये खबर, नहीं तो..!

यहां हम उस वीडियो का लिंक कतई नहीं डाल सकते जहां से योगी आदित्यनाथ की झूठी तस्वीरों को लाया गया है. मगर हां, स्क्रीनशॉट्स के ज़रिए कुछ और ‘तस्वीरें’ आप तक पहुंचाई जा सकती हैं. सो यहां हैं:

अपलोड की गई तस्वीरों में फर्जी योगी आदित्यनाथ का असली चेहरा
स्क्रीनशॉट 1. जहां से फेसबुक पर अपलोड की गई तस्वीरें आई हैं.
एक और स्क्रीनशॉट.

ये किस वीडियो से लिया गया है, हम नहीं बताएंगे. आप खोज पाएं तो खुद ही देख लें. आपको भी पक्का-पोढ़ा विश्वास हो जाएगा.

साभार: लल्लन टॉप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अपने जीन्स में मौजूद कैंसर के खतरे से अनजान हैं 80 फीसदी लोग

दुनिया भर में कैंसर के मामलों में तेजी