केरल नन रेप केस: बिशप की गिरफ़्तारी को लेकर कैथोलिक समुदाय का उग्र प्रदर्शन

- in राष्ट्रीय

रोमन कैथोलिक चर्च बिशप के खिलाफ एक नन द्वारा दायर बलात्कार की शिकायत की जांच में कथित लापरवाही की जांच के लिए शनिवार को कोच्चि में विभिन्न कैथोलिक सुधार संगठनों के सदस्यों ने सड़कों पर प्रदर्शन किया. पीड़ित नन की कार्यस्थली कोट्टायम में एक कॉन्वेंट से पांच नन ने भी प्रदर्शन में हिस्सा लिया और आरोप लगाया कि पीड़ित को चर्च, पुलिस और सरकार द्वारा न्याय से वंचित कर दिया गया है, क्योंकि अभी तक आरोप बिशप फ्रांको मुलाककल के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गई है.

प्रदर्शन कर रही एक नन ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा है कि हम अपनी बहिन के लिए न्याय चाहते हैं, लेकिन चर्च, कानून और सरकार की तरफ से उन्हें न्याय नहीं दिया जा रहा है, उन्हें न्याय दिलाने के लिए हम किसी भी सीमा तक जा सकते हैं. उन्होंने सवाल किया कि पर्याप्त सबूत होने के बाद भी अभी तक बिशप फ्रांको मुलाककल के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गई, न ही उन्हें गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने इस मामले पर चर्च को भी अपनी राय रखने के लिए कहा है.

नन ने कहा कि बिशप फ्रैंको के खिलाफ शिकायत के बाद से चौहत्तर दिन बीत चुके हैं, पुलिस ने कई बार बयान दर्ज किए, लेकिन अभियुक्त बिशप से केवल एक बार पूछताछ की गई. उन्होंने आरोप लगाया कि मामले की जांच करने वाली पुलिस जांच को खत्म करने की और आरोपी को बचाने की कोशिश कर रही है. केरल के कैथोलिक चर्च सुधार आंदोलन (केसीआरएम) समेत कैथोलिक सुधार संगठनों ने विरोध में हिस्सा लिया, केसीआरएम के पदाधिकारी जॉर्ज जोसेफ ने कहा, केसीआरएम समेत कुछ संगठन न्याय न मिलने तक अपना प्रदर्शन जारी रखेंगे. आपको बता दें कि नन ने बिशप फ्रैंको पर बलात्कार और 2014 और 2016 के बीच कई बार उनके साथ बलपूर्वक अप्राकृतिक यौन संबंध बनाने का आरोप लगाया है. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बलात्कार मामलों में अब होगी त्वरित कार्रवाई, पुलिस को मिलेगी यह विशेष किट

देश में पुलिस थानों को बलात्कार के मामलों की जांच