आपको भी चाहिए 350 रूपये का सिक्‍का, करना होगा ये काम

- in बिहार, राज्य

पटना। गुरु गोविंद सिंह की 350वीं जयंती, प्रकाशोत्सव पर्व पर भारतीय रिजर्व बैंक ने 350 रुपए का स्मारक सिक्का जारी करने का ऐलान किया है। इस सिक्के को पाने के लिए बिहार में भी लोगों के बीच काफी उत्सुकता देखी जा रही है। खासकर सिख समुदाय के लोग बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। अभी से ही लोग प्रतिदिन सिक्‍के को पाने के लिए रिजर्व बैंक पहुंचने लगे हैं। वहां उन्‍हें अधिकारी बता रहे हैं सीधे बैंक में आने पर यह सिक्‍का नहीं मिलेगा।पटना [जेएनएन]। गुरु गोविंद सिंह की 350वीं जयंती, प्रकाशोत्सव पर्व पर भारतीय रिजर्व बैंक ने 350 रुपए का स्मारक सिक्का जारी करने का ऐलान किया है। इस सिक्के को पाने के लिए बिहार में भी लोगों के बीच काफी उत्सुकता देखी जा रही है। खासकर सिख समुदाय के लोग बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। अभी से ही लोग प्रतिदिन सिक्‍के को पाने के लिए रिजर्व बैंक पहुंचने लगे हैं। वहां उन्‍हें अधिकारी बता रहे हैं सीधे बैंक में आने पर यह सिक्‍का नहीं मिलेगा।  रिजर्व बैंक के अधिकारियों ने बताया कि अगर किसी व्यक्ति को यह सिक्का चाहिए तो सबसे पहले उनको इस सिक्के की एडवांस बुकिंग करानी होगी। इसके लिए कोई भी बैंक की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन कर सकता है।  इस सिक्के के एक तरफ अशोक स्तंभ का चिह्न होगा, सिक्के का वजन 35 ग्राम होगा। सिक्के के पीछे की ओर बीच में 'तख्त श्री हरमंदिर जी पटना साहिब की तस्वीर' होगी। सिक्के की दाईं और बाईं तरफ की बाहरी पट्टी पर एक तरफ साल 1666 और दूसरी तरफ 2016 लिखा होगा।  आरबीआइ का कोलकाता और मुंबई मिंट ऑफिस, जो भारतीय प्रतिभूति मुद्रण तथा मुद्रा निर्माण निगम लिमिटेड के अंतर्गत आते हैं, स्पेशल एडीशन सिक्के और स्मारक सिक्के जारी करते हैं। इन सिक्कों को पाने की लिए निगम की वेबसाइट पर आवेदन करना होता है। केवल रजिस्टर्ड ग्राहक ही स्मारक सिक्कों के लिए आवेदन कर सकते हैं। रजिस्ट्रेशन कोई भी करा सकता है।

रिजर्व बैंक के अधिकारियों ने बताया कि अगर किसी व्यक्ति को यह सिक्का चाहिए तो सबसे पहले उनको इस सिक्के की एडवांस बुकिंग करानी होगी। इसके लिए कोई भी बैंक की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन कर सकता है।

इस सिक्के के एक तरफ अशोक स्तंभ का चिह्न होगा, सिक्के का वजन 35 ग्राम होगा। सिक्के के पीछे की ओर बीच में ‘तख्त श्री हरमंदिर जी पटना साहिब की तस्वीर’ होगी। सिक्के की दाईं और बाईं तरफ की बाहरी पट्टी पर एक तरफ साल 1666 और दूसरी तरफ 2016 लिखा होगा।

आरबीआइ का कोलकाता और मुंबई मिंट ऑफिस, जो भारतीय प्रतिभूति मुद्रण तथा मुद्रा निर्माण निगम लिमिटेड के अंतर्गत आते हैं, स्पेशल एडीशन सिक्के और स्मारक सिक्के जारी करते हैं। इन सिक्कों को पाने की लिए निगम की वेबसाइट पर आवेदन करना होता है। केवल रजिस्टर्ड ग्राहक ही स्मारक सिक्कों के लिए आवेदन कर सकते हैं। रजिस्ट्रेशन कोई भी करा सकता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

यूपी: बहराइच में अब तक 70 से अधिक बच्चों की मौत, देखने पहुंचे डॉ. कफील खान अरेस्ट

उत्तर प्रदेश के बहराइच में संक्रमण के साथ