विप्रो अमेरिकी कम्पनी डेनिम का हिस्स्सेदार बनी

- in कारोबार

बेंगलुरू: प्रमुख वैश्विक सॉफ्टवेयर कंपनी विप्रो ने अमेरिका की एप्लिकेशन सिक्योरिटी कंपनी डेनिम में अल्पमत हिस्सेदारी खरीदी है, ताकि साथ मिलकर सेवाएं प्रदान कर सके. यह जानकारी कम्पनी के एक बयान में सामने आई .विप्रो अमेरिकी कम्पनी डेनिम का हिस्स्सेदार बनी

विप्रो के बयान के अनुसार यह भागीदारी हमारे डिजिटल बदलाव और साइबर सुरक्षा की क्षमता को डेनिम के एप्लिकेशन सिक्युरिटी कंसलटिंग, एसेसमेंट्स और इंप्लीमेंटेशन सेवाओं के साथ बढ़ाएगा.हालाँकि कम्पनी ने इस अहम बात को छुपा लिया कि उसने किस कीमत पर कितनी हिस्सेदारी खरीदी है. बता दें कि विप्रो सॉफ्टवेयर क्षेत्र की देश दूसरी बड़ी कम्पनी है. अमेरिका की एप्लिकेशन सिक्योरिटी कंपनी डेनिम से खरीदी गई हिस्सेदारी से निश्चित ही विप्रो को लाभ होगा.जो उसके ग्राहकों को सुरक्षित सॉफ्टवेयर सेवा दे सकेगा.

डेनिम में हिस्सेदारी को लेकर दोनों पक्षों ने बयान जारी किए हैं.विप्रो के उपाध्यक्ष (साइबर सुरक्षा और जोखिम सेवाएं) शीतल मेहता ने बताया, कि डेनिम में हमारा निवेश डिजिटल जोखिम प्रबंधन को सरल बनाने में ग्राहकों की मदद करने के लिए हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाता है, जिससे वे सुरक्षित सॉफ्टवेयर की तेजी से तैनाती कर सकेंगे. वहीं डेनिम के प्रमुख जॉन डिकसन ने कहा कि विप्रो के साथ भागीदारी से कंपनी की पहुंच में वृद्धि होगी जहां प्रौद्योगिकी भरोसे के काबिल हो.

You may also like

#बड़ी खबर: सरकार ने सार्वजनिक बैंकों में नियुक्त किये 14 कार्यकारी निदेशक

सरकार ने महाप्रबंधक (जीएम) स्तर के 14 अधिकारियों