जाने क्यों अंडों को करना चाहिए अपनी डाइट में शामिल…

अंडा सबसे लोकप्रीय नाश्ता माना जाता है। 13 अलग-अलग विटामिन और खनिज, ओमेगा-3 फैटी एसिड और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर, प्रोटीन के पावरहाउस अंडे को इतना पॉपुलर बनाते हैं। शोध में भी पाया गया है कि नाश्ते में अंडा खाने से आपको काफी देर तक भूख नहीं लगती। जिसकी वजह से ब्लड शुगर और इंसुलिन स्तर बरकरार रहता है।

बच्चों के लिए अंडा ब्रेन के फंक्शन को बेहतर करने के साथ उनके विकास को भी बढ़ावा देता है। अंडा शरीर के हर एक अंग के लिए फायदेमंद साबित होता है। इसके अलावा अंडा सबसे सस्ता प्रोटीन और आसानी से उपलब्ध होता है।

अंडों को क्यों करना चाहिए अपनी डाइट में शामिल?

– अंडे में 13 अलग-अलग विटामिन्स और खनिज होते हैं, इसके अलावा अंडा प्रोटीन का समृद्ध स्रोत भी है।

– अंडों में मौजूद उच्च पोषक तत्व प्राकृतिक प्रतिरक्षा प्रणाली और शारीरिक विकास को बढ़ावा देने का काम करते हैं।

 

– अंडा एक संतुलित डाइट का बेहद अहम हिस्सा है। एक बड़े आकार के उबले हुए अंडे में 77 कैलोरी, विटामिन-ए, बी5, बी12, बी6, डी, ई, के और फोलेट, फॉसफोरस, सेलेनियम, कैल्शियम, ज़िंक के साथ 6 ग्राम प्रोटीन और 5 ग्राम हेल्दी फैट्स होते हैं।

– कोलाइन, एक पानी में घुलनशील विटामिन है जिसका उपयोग कोशिका झिल्ली के निर्माण के लिए किया जाता है और मस्तिष्क में सिग्नलिंग अणुओं का उत्पादन करने में मदद करता है। ये कोलाइन एक उबले हुए अंडे में भरपूर मात्रा में मौजूद होता है।

– ल्यूटिन और ज़ेक्सैन्थिन से भरपूर, अंडे की ज़र्दी एक सहायक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करती है, जो आंखों में मोतियाबिंद और मांसपेशियों के पतन के जोखिम को कम करती है।

– एक अंडे में लगभग 6 ग्राम प्रोटीन होता है, जो वज़न के प्रबंधन, मांसपेशियों को बढ़ाने, रक्तचाप को कम करने के साथ हमारी हड्डियों के लिए फायदेमंद साबित होता है।

– अंडे ओमेगा-3 आवश्यक वसा के स्तर को बेहतर बनाने में मदद करते हैं, जो दिल, दिमाग़ के स्वास्थ्य और आंखों की सुरक्षा के कामकाज में सक्रिय भूमिका निभाते हैं।

– अंडे में कैलोरी कम होती हैं लेकिन उच्च गुणवत्ता वाला प्रोटीन आपके पेट को लंबे समय तक भरा रखता है।

अध्ययनों से पता चला है कि नाश्ते के लिए अंडे खाने से ऊर्जा का स्तर उच्च रहता है, चयापचय गतिविधि को बढ़ावा मिलता है, खाने के बाद आपको संतुष्ट महसूस होता है। अंडे खाने के कई सारे फायदे हैं, जिसमें खाने की संतुष्टी से लेकर, टाइप-2 मधुमेह का नियंत्रित, वज़न कम करने से लेकर एंटीऑक्सीडेंट एक्टिविटी तक शामिल हैं। इसे देखते हुए हर किसी को अंडों को नियमित रूप से अपनी डाइट में शामिल करने की कोशिश करनी चाहिए।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 − fourteen =

Back to top button