आखिर क्यों है होली पर सफेद कपड़े पहनने का ट्रेंड

होली रंगों का, खुशियां बांटने का त्योहार है. इस दिन लोग एक दूसरे पर खूब गुलाल और गीले रंग लगाते हैं. पर क्या कभी आपने इस बात पर गौर फरमाया है कि इस रंगों के त्योहार वाले दिन सभी सफेद रंग के कपड़े ही क्यों पहनते है? होली पर क्यों सफेद रंग के कपड़े पहनने का ट्रेंड है? आइए हम बताते हैं.

होली पर सफेद कपड़े पहनने का ही चलन है. होली से पहले महिलाओं में सफेद कुर्ती और पुरुषों में भी सफेद रंग के कुर्ते की खरीददारी का क्रेज बढ़ जाता है. कई लड़कियां कुर्ती के साथ सफेद रंग का ही दुपट्टा लेना पसंद करती हैं तो कई कलरफुल दुपट्टा डालती हैं.

सफेद रंग शांति का प्रतीक माना जाता है. ये पर्व आपसी गिले-शिकवे भुलाकर गले लगने का त्योहार है. लोग भाईचारे और मानवता को दर्शाने के लिए होली पर सफेद कपड़े पहनते हैं.

शास्त्रों के अनुसार, होली का त्योहार बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है. होली का पर्व दो दिनों तक मनाया जाता है जिसमें पहले दिन होलिका का दहन किया जाता है. होलिका दहन की कहानी यह है कि हिरण्यकश्यप अपने बेटे प्रहलाद की विष्णु भक्ति से नाखुश था और एक दिन हिरण्यकश्यप की बहन होलिका, प्रहलाद को मारने की मंशा से अपने गोदी में लेकर शैय्या पर बैठ गई थीं. प्रहलाद केवल भगवान विष्णु का ही नाम स्मरण करते रहे जिससे प्रहलाद सुरक्षित रहे और होलिका का दहन हो गया. इस तरह अच्छाई और सच्चाई ने बुराई पर जीत हासिल की. सच्चाई, सत्य का प्रतीक है सफेद रंग.

सफेद रंग पर हर रंग बहुत अच्छे से उभरकर आता है. साथ ही सफेद रंग बड़ा कूल लुक और क्लासी भी देता है. होली के दिन सफेद रंग के कपड़ों की बात ही अलग होती है.

लुक के अलावा लोग होली पर सफेद रंग के कपड़े इसलिए भी पहनना पसंद करते हैं ताकि गुलाल का हर एक रंग अच्छे से दिखाई दे. सफेद कपड़ा एक सफेद कैनवस जैसा लगता है जिस पर ढेर सारे रंगों से कलाकारी की गई हो.

होली के रंग से रंगीन बने सफेद कपड़ों में फोटोज भी अच्छी आती हैं. फोटोज बहुत ही कलरफुल आती हैं जिसे देखकर मन खुश हो जाता है.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button