WHO की बड़ी चेतावनी, तुरंत खाना बंद कर दे ये 3 फल नहीं तो चली जाएगी जान…

- in जीवनशैली

फल हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदायक होते हैं. डाक्टर्स खुद कहते हैं कि हर इंसान को दिन में कोई 1 फल जरूर खाना चाहिए. फल हमारे शरीर में कई पौष्टिक तत्वों की कमी को पूरा करता है. वहीं आज की हमारी ये खबर आपको हैरान कर देगी. अगर हम कहें कि फल आपके लिए जानलेवा हो सकता है तो? यकीनन आप हैरान हो गए होंगे, लेकिन आज हम आपको उन 3 फलों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनमें इन दिनों बहुत ही खतरनाक वायरस के पाए जाने की उम्मीद है. इतना ही नहीं बल्कि WHO (world health organisation) ने खुद लोगों को ये चेतावनी दी है कि भूलकर भी इन 3 फलों का सेवन करने से बचें.

क्या है WHO ?

विश्व स्वास्थय संगठन यानि की WHO एक ऐसी संस्था है जो स्वास्थय संबंधी समस्याओं का समाधान निकालती है. ये संस्था विश्व स्तर की है, साथ ही ये स्वास्थ्य समस्याओं का आपसी सहयोग से निपटारा करती है. ये संस्था स्विजरलैंड के जेनेवा शहर में स्थित है जिसकी स्थापना 7 अप्रैल 1948 को हुई थी. बता दें कि भारत भी इस संस्था का एक सदस्य देश है.WHO के मुताबिक इन 3 फलों में निपाह नामक एक खतरनाक वायरस फैल रहा है.

अगर आपको भी शरीर में नज़र आ रहे हैं ये संकेत, तो समझ जाइये आप पे आने वाली है बड़ी मुसीबत

आखिर क्या होता है निपाह वायरस ?

WHO  ने निपाह नाम के वायरस को एक उभरती बीमारी करार दिया है. ये वायरस चमगादड़ की एक नस्ल है जिसमें ये पाया जाता है. ये वायरस चमगादड़ो के अंदर प्राकृतिक रूप से है. WHO के मुताबिक चमकादड़ जो भी फल खाता है उसके अपशिष्ट जैसी चीजों के संपर्क में जो भी जीव-जन्तु या कोई इंसान आता है तो ये वायरस उन्हें भी नुकसान पहुंचा सकता है. बाद में ये वायरस एक गंभीर बीमारी का रूप भी ले सकता है जो जानलेवा हो सकती है. ऐसे में WHO ने ऐसे 3 फल के नाम बताएं हैं जिनमें ये वायरस तेजी से फैल रहा है.

इन तीन फलों को ना खाएं- WHO

WHO ने ये सूचना दी है कि केरल से आने वाले फलों को जितना हो सके, खाने से बचें. दरअसल दिल्ली में केले, खजूर और आम ज्यादातर केरल से आते हैं ऐसे में इन 3 फलों का खाना किसी खतरे से कम नही है. अगर आप खाते भी हैं तो उन्हें अच्छे से धोकर ही खाएं. लेकिन जितना हो सके आप इन फलों का परहेज करें.

केरल से ही आने वाले फलों पर परहेज क्यूं ?

WHO ने केरल से ही आने वाले इन 3 फलों का परहेज करने के लिए इसलिए कहा है क्यूंकि ये जानलेवा वायरस केरल में ही फैल रहा है. साथ ही बता दें कि केरल में कुछ मौतें ऐसी हुई है जो रहस्यमयी है जिसका कारण WHO ने निपाह वायरस को ही ठहराया है. वैसे तो केरल में फैल रही इस बीमारी से अभी तक दिल्लीवासी सुरक्षित हैं लेकिन बेहतर होगा कि केरल से आने वाले इन 3 फलों को ना खाएं.

निपाह वायरस के लक्षण

अगर किसी इंसान में निपाह वायरस घुस जाता है तो ये कुछ लक्षण ऐसे हैं जो इस खतरनाक बीमारी का संकेत देती है.

ब्रेन में सूजन आना.

मानसिक भ्रम, कोमा.

 चक्कर आना , बुखार, सिरदर्द करना.

साथ ही बता दें कि ये वायरस इतना खतरनाक है कि इससे जान भी जा सकती है. अगर इनमें से कोई भी लक्षण दिखे तो तुरंत अस्पताल जाएं और जांच कराए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

दोस्तों के सामने दुल्हन ने रख दी ऐसी शर्त, रह गए दंग!

अपने दोस्त की शादी के लिए हर कोई