जब चार साल की बच्ची ने सुनाई अपनी मां की दर्दभरी दरिंदगी की दास्तां…

राजस्थान के अलवर जिले में एक वाकया ऐसा घटित हुआ है, जो भरोसे के कत्ल की दास्तां बयां करती है। यह खबर खो नागोरियान की है जहां शंकर विहार निवासी एक शख्स ने 18 नवंबर को अपने दोस्त की पत्नी (35) के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या कर दी। हत्या के बाद अपने दोस्त यानि मृतका के पति को फोन कर बताया कि बीमारी की वजह से उसकी पत्नी की मौत हो गई है।

Ujjawal Prabhat Android App Download

आपको बता दें कि आरोपी मृतका के पति का दोस्त और बिजनेस पार्टनर भी है। पति किसी काम के सिलसिले में भिवाड़ी गया था। आरोपी ने मृतका के पति को फोन कर बताया कि वह शव को दाह संस्कार के लिए उसके (पति के) पैतृक गांव अलवर के शाहजहांपुर स्थित बेलनी गांव ले आया है। मृतका का पीहर थानागाजी में है। वहीं दाह संस्कार प्रक्रिया के बीच मृतका की चार साल की बच्ची ने घरवालों से बातचीत के दौरान बताया कि महावीर अंकल ने ही मम्मी को मारा है और उन्होंने कपड़े भी उतार रखे थे।

बच्चे के मुंह से यह बात सुनते ही घरवालों ने तुरंत पुलिस को सूचित करने के बाद दाह संस्कार रुकवाया। इसके तुरंत बाद ग्रामीणों ने आरोपी को पकड़कर पुलिस के सुपुर्द कर दिया। 

वहीं पुलिस ने दुष्कर्म के साथ हत्या के मामले में ज़ीरो एफआईआर दर्ज कर जयपुर जिला पुलिस को भेज दी। पुलिस ने मृतका का  मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया है। वहीं खो नागोरियान थाना पुलिस आरोपी महावीर गुर्जर को अपने साथ ले गई।

घिनौनी करतूत: आरोपी ने बच्चों को ट्यूशन भेज दिया था, एक दिन पहले ही पति घर से गया था

मृतका का एक 12 साल का बेटा और 4 साल की बेटी है।  घरवालों से बातचीत के दौरान बच्चों ने बताया कि महावीर अंकल आए और उसे जबरदस्ती ट्यूशन पढ़ने भेज दिया। जब मां मना करने लगी तो ट्यूशन वाले टीचर को फोन कर हम दोनों को भेज दिया। जब दोपहर करीब 11:30 बजे जब वह वापस आया तो देखा कि मां नग्न फंदे पर लटकी थी।

शाहजहांपुर थाना प्रभारी सुनील जांगिड़ ने बताया कि बेलनी निवासी एक व्यक्ति ने मामला दर्ज कराया कि वह डेढ़ साल से जयपुर के खो नागोरियान में परिवार के साथ रहकर ट्रांसपोर्ट का व्यापार कर रहा था। जयपुर का गोनेर रोड शंकर विहार निवासी महावीर सिंह गुर्जर (43) इस व्यापार में उसका पार्टनर था।

पुलिस के मुताबिक पीड़ित पति मुहाना मंडी से सब्जी भरकर भिवाड़ी के 17 नवंबर को खाना खाकर निकल गया। अगले दिन सुबह करीब 8.30 बजे उसकी पत्नी से बात भी हुई थी; लेकिन उसे कहाँ पता था जब दोपहर करीब 12 बजे महावीर गुर्जर का फोन आएगा तो एक बुरी खबर भी साथ आएगी। 

आरोपी ने फोन पर बताया कि तुम्हारी पत्नी की बीमारी के कारण मौत हो गई है। शव को दाह संस्कार के लिए बेलनी ले आया हूं। पीड़ित ने आरोप लगाया कि महावीर ने पत्नी के साथ दुष्कर्म के बाद गला दबाकर उसकी हत्या कर दी।

बच्चों के मुताबिक घटना वाले दिन जब बच्चे ट्यूशन से वापस आए तो गेट टूटा  हुआ था और आरोपी गेट पर ही खड़ा था। महावीर ने मृतका को फंदे से उतारा और गाड़ी में लेकर गांव आ गया। जहां अंतिम संस्कार के लिए आए ग्रामीणों को बच्चों ने यह बात बताई तो मौजूद लोगों ने महावीर को पकड़ लिया। इसके बाद उसे लेकर थाने पहुंचे और पुलिस के सुपुर्द कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button