हम इस संकट काल में जनता पर कोई भी टैक्स नहीं थोपेगे: CM योगी

कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते संक्रमण के बीच केंद्र सरकार ने एक और लॉकडाउन यानी लॉकडाउन 5.0 को 30 जून तक बढ़ाया है। इसमें कंटेनमेंट (सील) जोन में अभी भी लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जाएगा। अनलॉक-1 के नाम से शुरू की जा रही व्यवस्था में आवागमन से लेकर लगभग सभी गतिविधियों को शर्त के साथ शुरू किया जा रहा है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को मीडिया वार्ता में कहा कि उत्तर प्रदेश में सोमवार से लॉकडाउन- 5.0 यानी अनलॉक-1 शुरू होगा। हमने टीम 11 के साथ इसको लेकर कल काफी मंथन किया है।

अनलॉक में जनता को मिलने वाली राहत पर गाइडलाइन तैयार की गई है। सभी को इन गाइडलाइन का पालन करना होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कल यानी सोमवार से अनलॉक शुरू होगा।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

इसमें भी कंटेन्मेंट जोन में सख्ती रहेगी। सीएम योगी आदित्यनाथ ने बताया कि उत्तर प्रदेश में बस और टैक्सी सेवा को शुरू करने का निर्णय लिया गया है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लॉकडाउन 5.0 में हम लोग काफी छूट दे रहे हैं। इसमें की लोगों को काफी सतर्क रहना होगा। पहले हफ्ते से हम चरणवार छूट देंगे।

इसी क्रम में आठ जून से धार्मिक स्थल खोले जाएंगे। इस दौरान भी हम मास गैदरिंग नहीं होने देंगे। हमने कई क्षेत्रों में लोगों को काफी राहत दी है, लेकिन बुजुर्ग व बच्चों को अभी भी बचना होगा।

हम इस संकट काल में भी जनता पर कोई टैक्स नहीं थोप रहे हैं, लेकिन जनता को भी कोरोना वायरस से संक्रमण से अपना बचाव करना होगा। उत्तर प्रदेश में भी कंटेनमेंट (सील) जोन में एक से 30 जून तक लॉकडाउन पूरी सख्ती से लागू रहेगा। सूबे में सिर्फ जरूरी सेवाओं की ही इजाजत होगी। कांटेक्ट ट्रेसिंग, घर-घर सर्विलांस का काम जारी रहेगा।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस संक्रमण पर हर क्षण पर सहीं निर्णय लिया है। देश में चार चरण में लागू लॉकडाउन के कारण ही हम लोग इस भयंकर महामारी में भी काफी सुरक्षित हैं।

उन्होंने कहा कि कल शनिवार को ही केंद्र की नरेंद्र मोदी ने दूसरे कार्यकाल का पहला वर्ष पूरा किया है। पीएम मोदी के नेतृत्व में देश लगातार प्रगति के पथ पर है और अब तो यह तय है कि भारत दुनिया में महाशक्ति बनेगा। पीएम मोदी ने हर कठिन काम को आसानी ने पूरा किया।

इस संकटकाल में कई देश भारत की ओर देख रहे हैं। यूपी इस विपरीत समय को अवसर में बदलेगा। अमेरिका, जापान, कोरिया डेस्क बनाया गया है और उद्योग आना भी शुरू हुआ है।

वैश्विक स्तर पर भी भारत की धमक लगातार बढ़ी है। मोदी जी ने ही देश की गरीबों की जिंदगी बदलने के साथ जीवनदायिनी मानी जाने वाली गंगा नदी को निर्मल करने का हम सभी का सपना साकार किया है। इसी क्रम में कश्मीर में धारा 370 को खत्म किया गया।

लॉकडाउन 5.0 को अनलॉक-1.0 भी माना जा रहा है। माना जा रहा है कि इस दौरान योगी आदित्यनाथ सरकार एक से 30 जून तक प्रदेश के लोगों को बड़ी राहत दे सकती है।

इसमें भी योगी आदित्यनाथ सरकार कंटेनमेंट जोन को लेकर बेहद गंभीर है। इस जोन में अब और भी सख्ती बढ़ेगी। जिन जिलों में संक्रमण कम हो रहा है, वहां पर बड़ी राहत देने की तैयारी है। प्रदेश सरकार गाइडलाइन के तहत छूट के बड़े ऐलान कर सकती है।

केंद्र सरकार की हर गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए प्रदेश में धार्मिक स्थलों को सोशल डिस्टेंसिंग के सख्त पालन के साथ खोलने की अनुमति दी जा सकती है।

इससे पहले भी कई संगठन पहले ही धार्मिक स्थलों को खोलने की मांग कर चुके हैं। प्रदेश सरकार लखनऊ मेट्रो को चलाने का ऐलान कर सकती है। यह तो शहर की लाइफ लाइन मानी जाती है।

इसके साथ ही रेस्टोरेंट और शॉपिंग मॉल को खोलने की इजाजत मिल सकती है। प्रदेश सरकार जिलों के साथ ही एक से दूसरे राज्य में आवाजाही के लिए किसी भी तरह के पास की जरूरत को खत्म कर सकती है।

लॉकडाउन 5.0 में योगी आदित्यनाथ सरकार अभी भी कई सावधानी को बरकरार रखना चाहती है। इनमें चेहरे को फेस मॉस्क या अगोंछा से ढकना तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग का का पालन करना अनिवार्य होगा।

भले ही सभी दुकानें खुलें, लेकिन दुकान के अंदर पांच से ज्यादा लोगों को रहने की इजाजत नहीं जाएगी। इस दौरान दुकान में एक दूसरे के बीच 6 फुट की दूरी अनिवार्य होगा।

विवाह में अधिकतम 50 और अंतिम संस्कार के लिए पहले की तरह ही अधिकतम 20 लोगों को शामिल होने की इजाजत होगी। प्रदेश में कहीं पर भी सार्वजनिक स्थल पर पान, गुटखा और तंबाकू खाकर थूकने पर पाबंदी बरकरार रहेगी। फिलहाल 65 वर्ष से अधिक के बुजुर्ग, गर्भवती महिला और दस वर्ष से कम उम्र के बच्चों को घर में ही रहने की सलाह दी गई है।

केंद्र सरकार ने जैसे ही लॉकडाउन 5.0 के लिए गाइलाइन जारी की लोग यह जानने के लिए परेशान हो गए कि यूपी में कितने कंटेनमेंट जोन है जहां छूट नहीं मिलने वाली है।

सरकार की ओर से शनिवार रात जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक यूपी में अभी तक 1094 कंटेनमेंट जोन है। जिलेवार कंटेनमेंट जोन की लिस्ट बनाने का जिम्मा स्थानीय जिला प्रशासन के पास है। वह तय करेगा कहां क्या करना है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने शनिवार रात टीम-11 के अधिकारियों के साथ अनलॉक-1.0 पर मंथन किया। केंद्र सरकार ने एक से 30 जून तक लागू किए जा रहे अनलॉक-1 के संदर्भ में गाइडलाइन शनिवार शाम को जारी कर दीं।

इनका पालन परिस्थिति अनुसार कराने की काफी कुछ छूट राज्य सरकारों को है, इसलिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ विचार-विमर्श के बाद मुख्य सचिव आरके तिवारी सहित शासन के अन्य वरिष्ठ अधिकारी गाइडलाइन के अध्ययन और प्रदेश में संक्रमण के हालात की समीक्षा में जुट गए। उसके आधार पर देर रात तक प्रदेश के लिए अनलॉक-1.0 की गाइडलाइन तैयार करने का काम होता रहा।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार गाइडलाइन लगभग तय की जा चुकी हैं, जो कि रविवार को जारी कर दी जाएंगी। वहीं, मुख्यमंत्री योगी ने भी इस संबंध में ट्वीट किया।

उन्होंने लिखा- कोरोना महामारी के दृष्टिगत लागू राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन को चरणबद्ध ढंग से समाप्त करने के संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में जारी नवीनतम निर्देशिका स्वागतयोग्य है। इस क्रम में संक्रमण के खतरों का ध्यान रखते हुए यूपी सरकार आवश्यक कदम उठाएगी।

इससे पहले भी चरणवार लॉकडाउन की जो भी गाइडलाइन केंद्र से जारी हुई हैं, उनके आधार पर प्रदेश की गाइडलाइन बनाने से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंत्रियों से सलाह ली और अधिकारियों के साथ बैठक की। फिर प्रदेश के हालात को देखते हुए ही रियायत और सख्ती पर फैसला किया गया।

कोरोना वायरस महामारी को रोकने के लिए देश में 24 मार्च से ही लॉकडाउन लागू है। लॉकडाउन 4.0 एक दिन बाद आज यानी 31 मई को खत्म हो रहा है। लॉकडाउन के चौथे चरण में काफी ढील दी गई और कई फैसले राज्यों पर छोड़ दिए गए थे।

गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार (28 मई) को मुख्यमंत्रियों से बात की थी और राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन को 31 मई के बाद बढ़ाए जाने पर उनके विचार-विमर्श किया था। लॉकडाउन के चौथे चरण की समाप्ति से महज तीन दिन पहले गृह मंत्री ने मुख्यमंत्रियों से टेलीफोन पर बातचीत की।

सरकार ने अनलॉक 1 के नाम से लॉक डाउन 5 जारी किया।

-सरकार ने अनलॉक 1 की गाइडलाइन जारी की।

-1 जून से 30 जून तक अनलॉक का एलान।

-एक से दूसरे राज्य में जाने के लिए पास की जरूरत नहीं।

-8 जून से शर्तों के साथ धार्मिक स्थल खुलेंगे

-जुलाई में स्कूल खोलने का फैसला लिया।

-30 जून तक नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा।

-रात्रि 9:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक कर्फ्यू जारी रहेग

-होटल रेस्टोरेंट 8 जून से खुलेंगे।

-कंटोमेन्ट जॉन 30 जून तक बंद रहेंगे।

-जिम स्विमिंग पूल खोलने पर अभी फैसला नहीं लिया।

-सार्वजनिक जगहों पर मास्क लगाना जरूरी

-सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना जरूरी।

-अंतिम संस्कार में अधिकतम 20 लोग

-सार्वजनिक स्थल पर थूकना अपराध

-सार्वजनिक स्थलों पर पान मसाला खाना वैन।

-शादियों में अधिकतम 50 मेहमान की इजाजत।

-8 जून से मॉल शॉपिंग सेंटर खुलेंगे।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button