अयोध्या पहुंचे उद्धव ठाकरे, रामलला और हनुमानगढ़ी के करेंगे दर्शन…

सरकार के 100 दिन पूरे होने पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे अयोध्या पहुंच गए हैं। उद्धव ठाकरे का स्वागत करते हुए उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इस दौरान वो रामलला के दरबार में माथा टेकेंगे और हनुमानगढ़ी के दर्शन भी करेंगे, लेकिन उद्धव न तो सरयू आरती करेंगे न ही किसी प्रकार की जनसभा होगी।

बताया जा रहा है कि कोरोना वायरस के खतरे को लेकर उनके दोनों कार्यक्रम रद्द कर दिए गए हैं। शिवसेना के प्रवक्ता संजय राउत, मुख्यमंत्री के आगमन कार्यक्रम को लेकर अयोध्या में हैं। राउत ने कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र के आह्वान के बाद भीड़भाड़ वाले कार्यक्रमों को रद्द किया गया है। मुख्यमंत्री योगी ने भी भीड़भाड़ वाले कार्यक्रमों से बचने की अपील की थी।

राउत ने कहा था कि कहीं कोई विरोध नजर नहीं आ रहा है। कोई विरोध करना चाहता है तो वह उसकी भूमिका है। लोकतंत्र में सभी को विरोध करने का अधिकार है। संत महंत भी राजनीतिक विरोध करने लगे हैं। अच्छी बात है उनमें जागरूकता आई है।

विधायक की मांग, अयोध्या मंदिर ट्रस्ट में शिवसेना का भी सदस्य हो शामिल
महाराष्ट्र से शिवसेना विधायक प्रताप सरनाइक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर पार्टी के एक नेता को राम मंदिर ट्रस्ट में सदस्य के तौर पर नियुक्त करने की मांग की है। यह ट्रस्ट अयोध्या में मंदिर के निर्माण का कार्य देखेगा।

ठाणे के ओवाला-मजीवड़ा सीट से विधायक सरनाइक ने मंदिर के निर्माण के लिए अभियान चलाने में शिवसेना संस्थापक दिवंगत बाल ठाकरे के योगदान का भी जिक्र किया। सरनाइक ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के शनिवार के अयोध्या दौरे से पहले यह मांग रखी।शुक्रवार को भेजे गए दो पन्नों के पत्र में सरनाइक ने कहा कि शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने भी मंदिर निर्माण के लिए बहुत प्रचार किया है।

उद्धव के अयोध्या दौरे पर शिवसेना ने कहा: विचारधारा में कोई बदलाव नहीं आया
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के अपनी सरकार के 100 दिन पूरे होने पर अयोध्या जाने के मौके पर पार्टी ने शनिवार को कहा कि उसकी विचारधारा में कोई बदलाव नहीं आया है। अपने पूर्व सहयोगी दल भाजपा पर कटाक्ष करते हुए शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में कहा कि भगवान राम और हिंदुत्व किसी एक राजनीतिक दल की संपत्ति नहीं है।

राउत ने कहा सरयू आरती होने वाली थी। लेकिन जिस प्रकार से कोरोना वायरस के डर का माहौल है। प्रधानमंत्री जी ने भीड़ वाले कार्यक्रमों से बचने का आह्वान किया है। मुख्यमंत्रीजी से भी बात हुई है।

सबका आह्वान है कि भीड़भाड़ वाले कार्यक्रम से बचा जाए। उसके बाद उद्धवजी से बात हुई है। सरकार की तरफ से जो गाइडलाइन मिली है, उसका अनुपालन होगा। सरयू आरती स्थगित कर दी गई है।

संजय राउत ने बताया कि शिवसेना के करीब दो हजार कार्यकर्ता व सांसद, विधायक भी अयोध्या पहुंच रहे हैं। उन्होंने बताया कि उद्धव ठाकरे राममंदिर निर्माण के लिए कुछ बड़ा ऐलान कर सकते हैं।

संजय राउत ने कहा राम मंदिर निर्माण को एक राष्ट्रीय कार्य मान कर एक दिन अयोध्या आना चाहिए। सभी को इसमें सहयोग करना चाहिए। यही मेरी सभी राजनीतिक दलों व व्यक्तियों से अपील है।

क्या राहुल गांधी भी रामलला के दर्शन करेंगे, इस सवाल पर राउत ने कहा राहुल जी श्रद्धालु हैं, उनकी आस्था है। मैं चाहूंगा कि असददुद्दीन ओवैसी, ममता दीदी, आंध्र प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री भी यहां आएं। भगवान राम सभी के हैं।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button