ट्विटर ने शुरू किया स्वच्छता अभियान, कई हस्तियों को लग सकता हैं ये बड़ा झटका

तीतर के दो आगे तीतर, तीतर के दो पीछे तीतर. बोलो कितने होंगे तीतर? आमतौर पर इस पहेली का उत्तर हम तीन जानते हैं. लेकिन ट्विटर पर पोस्ट किए जा रहे संदेशों के प्रसारण की भाषा में इसका उत्तर पांच होगा. जी हां हम बात कर रहे हैं स्पैम, ट्रोलिंग और नफरत फैलाए जाने वाली पोस्ट की शिकायतों से जूझ रहे ट्विटर की. जिससे निबटने के लिए ट्विटर ने स्पैम और ट्रोलिंग के खिलाफ अपनी जंग तेज कर दी है.

ट्विटर इंडिया ने बुधवार को बताया कि कंपनी ट्विटर पर फर्जी खातों को खत्म करने की पूरी कोशिश कर रही है जिससे ट्विटर इस्तेमाल करने वालों के फॉलोवर्स में कमी आ सकती है. लेकिन इसका ये मतलब कतई नहीं होगा कि ट्विटर यूजर्स ने कोई गलती की है.

स्पैम-ट्रोलिंग रोकने के लिए ट्विटर ने उठाए ये कदम

ट्वीट में संदिग्ध खातों की विजिबिलिटी होगी कम. ट्विटर संदिग्ध खातों की पहचान कर रिट्वीट्स और लाइक्स को रियल टाइम में अपडेट करेगा.

नए खाते बनाने की प्रक्रिया को सुदृढ़ करेगा. नए खाते बनाने वालों को ई-मेल एड्रेस के जरिए वेरिफाई करेगा. इसके अलावा यूजर्स से उसका फोन नंबर भी मांगा जाएगा.

ट्विटर पर मौजूदा खातों का ऑडिट किया जाएगा. जिसके तहत ऐसे संदिग्ध ट्विटर खातों की पहचान की जाएगी जिन्होंने ट्विटर पर वेरिफाइड खातों वाले यूजर्स को थोक के भाव फॉलो किया है.

निकी हेली ने की भारतीय सभ्यता की तारीफ, कहा- धार्मिक आजादी नागरिक स्वतंत्रता जितना ही महत्वपूर्ण

इस कदम से कई बड़ी हस्तियों के ट्विटर फॉलोवर्स में कमी आ सकती है. दुर्भावना फैलाने वाले खातों का पता करने की प्रक्रिया को और मजबूत किया जाएगा.

दुनिया की कई बड़ी हस्तियों के हैं फर्जी फॉलोवर

डिजिटल डिप्लोमेसी पर नजर रखने वाली जेनेवा स्थित ट्विप्लोमेसी नाम की संस्था ने हाल ही में अपनी रिपोर्ट में दावा किया था कि विश्व की कई बड़ी हस्तियों के बड़ी संख्या में फर्जी फॉलोवर हैं. ट्विप्लोमेसी का दावा था कि पीएम मोदी के 60 फीसदी ट्विटर फॉलोअर्स फर्जी हैं. पीएम के बाद दूसरे नंबर पर पोप फ्रांसिस हैं जिनके 59 फीसदी फॉलोअर्स फर्जी हैं और तीसरे नंबर पर हैं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जिनके 37 फीसदी फर्जी फॉलोअर्स हैं. ट्विटर पर फर्जी फॉलोवर्स की जांच करने वाले टूल ट्विटर ऑडिट की सहायता से ये भी पता लगा था कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के भी 60 फीसदी से ज्यादा फॉलोवर्स फर्जी हैं.

ट्विटर ने हाल ही में वैश्विक स्तर पर 90 लाख से ज्यादा स्पैम/फर्जी अकाउंट की पहचान की थी. ट्विटर इंडिया ने अपने ट्वीट में ये भी बताया कि वो आने वाले दिनों में और भी जानकारी शेयर करेगी, जिनसे ट्विटर पर नफरत फैलाने और ट्रोल करने वालों से निजात पाई जा सके.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

रूस से एस-400 मिसाइल की खरीद पर अमेरिका नाराज, भारत पर लगाएगा प्रतिबंध!

अमेरिका के ट्रंप प्रशासन ने कहा है कि भारत का