गर्लफ्रेंड के शौक पूरे करने के लिए उठाया ये बड़ा कदम

- in अपराध

वाराणसी में शनिवार को मोबाइल और लैपटॉप छीनने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पूछताछ में पता चला कि गर्लफ्रेंड की जरूरतों और शौक को पूरा करने के लिए छिनैती करते थे। पांचों के पास से 22 मोबाइल बरामद कर पुलिस ने उन्हें शनिवार को जेल भेज दिया। पांचों की शिनाख्त बड़ागांव के बिसईपुर के हैदर अली उर्फ छेदी, राजघाट के कृष्ण मोहन ओझा और कपसेठी के कोइलार के प्रमोद मौर्य उर्फ पप्पू, शिवदास मौर्य व सचिन राजभर के तौर पर हुई है।

एसपी ग्रामीण अमित कुमार ने बताया कि बड़ागांव थानाध्यक्ष अनिल कुमार सिंह को शुक्रवार की रात सूचना मिली थी कि गांग कला तिराहे के पास स्थित बगीचे में पांच लड़के विवाद कर रहे हैं।

रामेश्वरम: कचरा वाहन में ढोया बुजुर्ग महिला तीर्थयात्री का शव

सूचना पर बड़ागांव थानाध्यक्ष ने छापामारी की तो मौके पर 22 मोबाइल बरामद हुआ। पांचों छीने गए मोबाइल के बंटवारे को लेकर लड़ रहे थे। पूछताछ में सभी ने बताया कि बीएचयू अस्पताल, ट्रॉमा सेंटर और मंडलीय अस्पताल परिसर से सभी मोबाइल छीनने का काम करते थे।

बंटवारे के बाद बेचने से जो पैसे मिलते थे उससे सभी अपने शौक और अपनी गर्लफ्रेंड की जरूरतें पूरी करते थे। पांचों ने बताया कि छीने गए मोबाइल को उन्होंने ओएलएक्स जैसी ऑनलाइन कंपनियों के माध्यम से मुंबई, दिल्ली और दुबई तक बेचा है।

You may also like

प्रेमिका को फंसाने के लिए युवक ने ले ली दोस्त की जान, जाने पूरा मामला

यूपी के आजमगढ़ में एक युवक ने अपनी