Tit for Tat: गीता के बदले रमजान को सौंपेगा भारत

भोramzan-300x200पाल। गलती से पाकिस्तान गई गीता अपने देश वापस लौट आई है। अब भारत भी पाकिस्तान को ‘रिटर्न गिफ्ट’ देने की तैयारी कर रहा है। 15 साल पहले पाकिस्तान गई गीता के बदले भारत कराची के रमजान को वापस पाकिस्तान भेजेगा।

पीएमओ ने खोला केस
भारत ने पाकिस्तान की मानवीय पहल को सराहा है। पाकिस्तान की इस पहल पर पीएमओ ने रमजान के केस को दोबारा खोला है। सूत्रों की अगर माने तो पहले विदेश मंत्रालय ने इस केस को बंद कर दिया था।

राष्ट्रपति को लिखा पत्र
पीएमओ में कंसल्टेंट आशुतोष शुक्ला ने कहा कि हमने राष्ट्रपति प्रणब को इस मामले के लिए पत्र लिखा है कि रमजान जल्द पाकिस्तान में होगा। रमजान जब 10 साल का था, तब उसके पिता ने एक बांग्लादेशी औरत से दूसरी शादी कर ली थी। उस महिला के उकसाने पर ही वह 2011 में चोरी-छिपे भारत में आ गया था। यहां आकर वह काफी दिनों तक भटकता रहा। 22 सितंबर, 2013 को भोपाल में रेलवे पुलिस को वह मिला था। तब से ही वह यहां के चाइल्डलाइन नाम के एनजीओ की शरण में है।

मांगी गई जानकारी
कुछ दिन पहले पाकिस्तान उच्चायोग ने भारत में कॉल की थी जिसमें उसके बारे में जानकारी मांगी गई थी। सितंबर, 2015 में एक सीए स्टूडेंट ने सोशल मीडिया पर तस्वीरें पोस्ट कर कराची में रह रहे रमजान के परिवार का पता लगाया था। इसके बाद पाकिस्तान के मानवाधिकार कार्यकर्ता अंसार बर्नी ने मामले में दखल दिया और रमजान के दादा-दादी का पासपोर्ट भारतीय दूतावास और चाइल्डलाइन के पास भेजा।

मां ने लगाई गुहार
रमजान की मां रजिया को जैसे ही पता चला कि उसका बेटा भारत में है, उन्होंने अंसार बर्नी से उसे वापस लाने की गुहार लगाई।

 

 

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button