तीन तलाक के खिलाफ हुई मुस्लिम महिलाएं

- in राष्ट्रीय

जहा एक और मुस्लिम महिलाएं तीन तलाक बिल को लेकर सरकार की तारीफ करते नहीं थक रही है, वही दूसरी और केंद्र सरकार द्वारा तीन तलाक पर बनाए गए बिल के विरोध में तीन अप्रैल को साकरस गांव की महिलाएं मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड के बैनर तले विरोध रैली निकाल कर उपायुक्त को ज्ञापन सौंपने जा रही है. जमीयत उलमा साकरस के सदर मुफ्ती सलीम अहमद साकरस, हलका मांड़ीखेड़ा के सदर मौलाना साबिर कासमी ने जानकारी देते हुए बताया कि केंद्र सरकार ने तीन तलाक पर जो बिल पारित किया है, उसका मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड एवं मुस्लिम महिलाएं जमकर विरोध कर रही हैं.

बड़ी खबर: इंदौर में गिरा होटल, पल में मलबा हुई कई जिंदगियां

अपनी आवाज को पुरजोर तरीके से उठाने के लिए ही महिलाएं प्रदर्शन करेंगी. इस प्रदर्शन एवं उपायुक्त को ज्ञापन सौंपने से ही उनकी आवाज केंद्र की हुकूमत तक पहुंचेगी. उन्होंने कहा कि तीन तलाक पर कानून पारित कर केंद्र सरकार मुस्लिम महिलाओं के साथ अत्याचार कर रही है. तलाक के बाद जब मुस्लिम खवातीनों के शौहर जेल में चले जाएंगे तो उनके परिवार की गुजर-बसर कौन करेगा, यह अहम परेशानी है.

 

You may also like

लापता जवान की निर्ममता से हत्या, शव के साथ बर्बरता, आॅख भी निकाली

दो दिन पहले बार्डर की सफाई दौरान पाकिस्तानी